जब पैदल ही भाजपा कार्यालय पहुंच गये स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जय प्रताप सिंह

0
2045

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री जय प्रताप सिंह की पहचान उनकी सादगी, सहजता और सरलता है। दिखावे से दूर जनता के बीच रहना पसंद करने वाले स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री गुरुवार को अपनी सादगी का परिचय देते हुए विधान भवन स्थित अपने कार्यालय से पैदल ही भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देव सिंह से मिलने पार्टी कार्यालय पहुंच गये। लाव-लश्‍कर की बजाय जय प्रताप सिंह को पैदल देखकर पार्टीजन भी उनकी तारीफ करते नजर आये।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जय प्रताप सिंह अन्‍य सत्‍ताधीशों की तरह जनता से कटकर रहने की बजाय उनके  बीच रहना ज्‍यादा पसंद करते हैं। राजघराने से ताल्‍लुक रखने के बावजूद उनके दिखावे वाला गुण नहीं है। गौरतलब है कि जय प्रताप सिंह जब आबकारी विभाग के मंत्री थे तो पोंटी चड्ढा एडं ग्रुप के वर्चस्‍व को विभाग से खत्‍म कर दिया था। सपा-बसपा की सरकार में मनमर्जी से शासनादेश बनवाने वाले इस समूह की दाल नहीं गल पाई।

अब उनके पास चिकित्‍सा विभाग की जिम्‍मेदारी है तो वे आये दिन विभाग में सुधार के लिये सक्रिय रहते हैं। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की जिम्‍मेदारी मिलने के बाद वह लगभग सभी जिलों के अस्‍पतालों का औचक निरीक्षण कर चुके हैं। डाक्‍टरों की कमी और संसाधनों में दिक्‍कत के बावजूद श्री सिंह उत्‍तर प्रदेश की स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था को सुधारने में जुटे हुए हैं, जिसके चप्‍पे-चप्‍पे पर दलाल बैठे हुए हैं। आबकारी विभाग में बेहतर काम देखने के बाद ही सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने इस विभाग की जिम्‍मेदारी सौंपी है।