पिता की पुण्यतिथि को यादगार बना दिया गरीब का बेटा!

0
160

लखनऊ। “बाढ़ै पुत्र पिता के धर्में, खेती उपजे अपने कर्में” को उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने चरितार्थ किया। उन्होंने अपने पिता के प्रथम पुण्यतिथि पर अपनी मातृभूमि जनपद र्कौशाम्बी में सिराथू के आदर्श इण्टर कालेज में आयोजित भव्य कार्यक्रम मे कुल 15377.83 लाख रूपये की लागत की 21 परियोजनाओं का लोकार्पण एंव शिलान्यास किया। इस संदर्भ में पूछे जाने पर केशव मौर्य ने कहा कि “योजनाओं से संबंधित रूपरेखा पहले से तैयार थी मैं संगठन की ओर से महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का सहप्रभारी बनाया गया हूँ अधिक समय मेरा वहीं जा रहा है।

पिताकी पुण्यतिथि थी उस अवसर पर विकास कार्यों के प्रारंभ करने की जो संतुष्टि एक पुत्र को होती है वह मुझे भी हो रही है। क्यों कि मैं तो कभी सोचा भी नहीं था कि समाज में यह स्थान मिलेगा। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गृहमंत्री अमित भाई शाह का हर काम पिछड़ों, वंचितों, गरीबों के दुःख दूर करने वाला होता है। यह उन्हीं का आशीर्वाद है। आज जिन कार्यों का प्रारंभ हुआ उनमें जनपद कौशाम्बी के सिराथू में 26.80 करोड रूपये की लागत से बनने वाले रेलवे उपरगामी सेतु का शिलान्यास भी शामिल है।

परियाजनाओं के लोकापर्ण एंव शिलान्यास कार्यक्रम के तहत  उपमुख्यमंत्री ने पी0 डब्लू0डी0 विभाग की बनायी गयी 9777.25 लाख रूपये की लागत से कुल 17 सडकें जिनकी लम्बाई 88.58 कि0मी0 है, का लोकापर्ण किया, एंव 2920.12 लाख रूपये की लागत से बनने वाली 26.70 कि0मी0 लम्बाई की तीन सडकों का शिलान्यास किया। इसी तरह से 2680.46 लाख रूपये की लागत से सिराथू रेलवे क्रासिग पर बनने वाले उपरगामी सेतु का भी शिलान्यास किया। आयोजित कार्यक्रम में लोगों को सम्बोधित करते हुए  उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि उनके मन में बहुत पहले से ही सिराथू रेलवे क्रासिगं पर उपरगामी सेतु बनाने की संकल्पना थी, आज उनका वह संकल्प पूरा हो रहा है, इससे लोगों को आवागमन में बहुत ही सुविधा होगी।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य की सरकार गांव, गरीब, किसान, नौजवान एवं महिलाओं की उन्नति एवं सम्मान के लिए कृत संकल्प है। उन्होने कहा कि सरकार के द्वारा किसानों की स्थिति की बेहतरी के लिए  प्रधनमंत्री किसान सम्मान निधि योजना चालू की गयी है, जिसके तहत 2000/- रूपये प्रति तिमाही की दर से प्रतिवर्ष सभी किसानों के खाते में 6000 /-रूपये दिये जाने की व्यवस्था है। योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार से बिचौलियों की भूमिका न होने पाये, सरकार के द्वारा ऐसी व्यवस्थायें सुनिश्चित की गयी है। कहा कि सरकार के द्वारा सीधे किसानों के खाते में पैसा हस्तानान्तरित किया जाता है।अब योजनाओं का लाभ सीधे सभी पात्र गरीब व्यक्तियों को उपलब्ध कराया जा रहा है। सौभाग्य योजना के तहत गांव-गांव में कनेक्शन देकर बिद्युत की  उपलब्धता सुनिश्चित करायी जा रही है। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री  के नेतृत्व में चल रहे स्वच्छता कार्यक्रम के तहत घर-घर शौचालय का निर्माण कार्य कराया गया है।

मोदीजी एवं योगीजी की इच्छा के अनुरूप प्रत्येक गरीब पात्र परिवारों को पक्का मकान उपलब्ध कराया जा रहा है। जिनके पास भी कच्चा मकान है तथा वे पात्रता की श्रेणी में आते है ऐसे सभी लोगों को सरकार के द्वारा पक्का मकान उपलब्ध कराये जाने की योजना संचालित है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों के लिए उज्जवला योजना चलायी गयी है, जिसके तहत गरीब लोगों को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिया जा रहा है, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की संकल्पना के अनुसार सभी लोगों को पाइप लाइन के माध्यम से पीने के पानी के लिए योजना बनायी गयी है, जिसके तहत हर घर को पाइप लाइन के माध्यम से पानी मुहैया कराया जायेगा। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा आज पूरे प्रदेश में सडकों का जाल बिछाया जा रहा है।  उप मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र एंव प्रदेश की सरकार सबका साथ सबका विकास सिद्धान्त के तहत गरीब लोगों को योजनाओं से समान रूप से लाभवान्वित करा रही है।

उन्होने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत सरकार के द्वारा गरीबों के लिए 5 लाख रूपये तक की निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधायें मुहया करायी जा रही है, उन्होनें कहा कि सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए कृतसंकल्प है। इस अवसर पर  सांसद  विनोद सोनकर, सांसद सलेमपुर रवीद्र कुशवाहा, विधायक चायल  संजय गुप्ता विधायक सिराथू  शीतला प्रसाद उर्फ पप्पू पटेल, विधायक फाफामउ, विक्रमा जीत मौर्य, सहित अन्य जन प्रतिनिधियों के द्वारा भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये।इस अवसर पर जन प्रतिनिधियों के अलावा में भारी संख्या में जन समुदाय उपस्थित रहा।