नवरात्रि में उच्च शिक्षा के मंदिर की सौगात देंगे सीएम योगी

नवरात्रि के पावन अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उच्च शिक्षा के मंदिर की सौगात देंगे। इस ज्ञान मंदिर में इसी सत्र से शैक्षिक आराधना भी प्रारंभ हो जाएगी। 12 या 13 अक्टूबर को जंगल कौड़िया के रसूलपुर में बने महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों लोक शिक्षा सेवा को अर्पित होने की उम्मीद है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 21 मई 2018 को जिले के तीसरे राजकीय महाविद्यालय के रूप में महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय की आधारशिला रखी थी। अब यह बनकर तैयार है और उच्च शिक्षा का उजास फैलाने को तत्पर भी। पंडित दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में कला, विज्ञान एवं वाणिज्य कक्षाएं चलाने पहले ही मंजूरी मिल चुकी है। यहां कला संकाय में अब तक प्रथम वर्ष के लिए 260, विज्ञान संकाय में बीएससी बायो के लिए 60 और बीएससी मैथ के लिए 40 छात्रों ने प्रवेश लिया है। जबकि वाणिज्य संकाय में 50 छात्रों ने प्रवेश लिया है। यह कॉलेज आसपास के क्षेत्र की उन बालिकाओं के लिए वरदान साबित होगा जो कतिपय कारणों से अधिक दूर जाकर शिक्षा ग्रहण करने में दिक्कतों का सामना करती हैं। पठन-पाठन की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए यहां प्राचार्य डॉ जयप्रकाश के साथ 14 शिक्षकों की नियुक्ति हो जा चुकी है। सभी ने कार्यभार भी ग्रहण कर लिया है। शिक्षणेत्तर कर्मचारी भी नियुक्त कर दिए गए हैं। 12 या 13 अक्टूबर को होने वाले लोकार्पण समारोह के मद्देनजर उच्च शिक्षा अधिकारी एके मिश्रा,
राजकीय निर्माण निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर डीबी सिंह व राजकीय कॉलेज के प्राचार्य डॉ जय प्रकाश तैयारियों में जुट गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी यहां जनसभा को भी संबोधित करेंगे।