पल्टी मारने में अखिलेश का कोई जवाब नहीं: सिद्धार्थ नाथ

अखिलेशजी आप तो गजब के पल्टीमर निकले। हर 24 घन्टे में आपके बयान बदलते हैं और हर चुनाव में गठबंधन। आपके बयानों में गजब का विरोधाभास है। लखीमपुर की घटना में कल तक आपको योगी सरकार का कोई एक्शन नहीं दिख रहा था। आज आपको गांवों में भाजपा के उतरते झंडे दिख रहे हैं। कल आप धृतराष्ट्र की भूमिका में नजर आए आज संजय के रोल में।
यह बातें उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के एक ट्वीट के जवाब में कही। मालूम हो कि अखिलेश ने अपने ट्वीट में लिखा है कि उप्र के शासन-प्रशासन ने लखीमपुर के नामज़द आरोपी को समन भेजने की जो औपचारिक कार्रवाई की है उससे जनाक्रोश और बढ़ गया है। इस घटना के बाद जिस तरह पूरे देश, विशेषकर उप्र में किसानों के बीच भावात्मक एकता जन्मी है वो अभूतपूर्व है। गाँवों में भाजपा के झंडे उतर गये हैं।

इसके जवाब में सरकार के प्रवक्ता ने कहा है कि तुलसीदास ने रामचरिच मानस में आपही जैसे लोगों के लिए लिखा है, जाकी रही भावना जैसी..। एक और मुहावरा आप पर लागू होता है, “अंधा कहे सब जग अंधा” पर यह होता नहीं। जनता सब देख रही है। वह आपकी तरह नहीं है। दरअसल आपकी हालत सत्तालोलुपता के कारण उस अंधे बगुले जैसी होने वाली है जिसे मछली के गफलत में कीचड़ खाना पड़ता है।