1 करोड़ के जेवरात संग 2 तस्कर गिरफ्तार, जीआरपी और आरपीएफ को संयुक्त ऑपेरशन में मिली सफलता

डीडीयू जीआरपी और आरपीएफ के संयुक्त ऑपेरशन में सोने के एक करोड़ के जेवरात संग 2 तस्कर गिरफ्तार : चंदौली : डीडीयू जंक्शन स्थित जीआरपी व आरपीएफ की संयुक्त टीम ने बीती रात चेकिंग के दौरान प्लेटफार्म संख्या 7/8 से दो तस्करों को गिरफ्तार कर लगभग 2 किलोग्राम सोने व चांदी के जेवरात सहित गिरफ्तार कर विधिक कार्रवाई की है। बरामद जेवरात को सेल टैक्स विभाग के अधिकारियों के सुपुर्दगी में देकर पुलिस ने दोनों तस्करों को जेल भेज दिया है। कब्जे में ली गयी जेवरात की कीमत 1 करोड़ रुपये आंकी गयी है।

बिहार में चल रहे विधानसभा चुनाव और ट्रेनों में होने वाले अपराध को लेकर अपर पुलिस महानिदेशक रेलवे के निर्देश पर लगातार चेकिंग अभियान चलाये जा रहे हैं।

इसी क्रम में जीआरपी प्रभारी निरीक्षक आरके सिंह,एसएसआई डीपी यादव, आरपीएफ स्टेशन पोस्ट प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार व उनलोगों की टीम द्वारा स्टेशन पर बीती रात चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था।

इसी बीच पालटफॉर्म संख्या 7/8 स्थित एफओबी के नीचे सीमेंटेड बेंच पर बैठे दो व्यक्तियों केई शंकावश जांच की गई तो उनलोगों के पास से एक काले झोले में रखे लोहे के बॉक्स में सोने व चांदी के जेवरात मिलने पर उसके वैध कागजात दिखाने को कहा गया।

जब उनलोगों ने कोई कागजात नहीं दिखाया तो पुलिस टीम दोनों को मय जेवरात हिरासत में लेकर जीआरपी कोतवाली ले आयी। जहां पूछताछ के दौरान उनलोगों ने अपना नाम पुलक पाल व तिलक पाल दोनों पुत्र श्यामपदा पाल निवासी सागमण्डल, थाना खड़गपुर पश्चिमी मेदिनीपुर पश्चिम बंगाल बताया।

बरामद सोने के जेवरात का वजन लगभग 1 किलो 965 ग्राम व चांदी के जेवरात का 177.4 ग्राम है। पुलिस ने दोनों के विरुद्ध विधिक कार्रवाई करते हुए इसकी सूचना डीआरआई,सेल्स टैक्स विभाग व इनकम टैक्स विभाग के उच्चाधिकारियों को दी।

सूचना पर पहुंचे सभी अधिकारियों ने दोनों तस्करों से पूछताछ की। तत्पश्चात जीआरपी ने बरामद जेवरात को सेल्स टैक्स विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर को सौपते हुए अग्रिम कार्रवाई की है।

बरामदगी व गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में उपरोक्त अधिकरियों के साथ हेड कॉन्स्टेबल जीआरपी रविन्द्र कुमार यादव,विजय गौड़,रजनीश सिंह,शिवगोविंद,अमरजीत यादव,शिवकुमार यादव,प्रभुनाथ यादव तथा आरपीएफ से हेड कॉन्स्टेबल पवन कुमार,कॉन्स्टेबल अच्छेलाल यादव व आरपीएफ सीआईबी कॉन्स्टेबल दुर्गेश आनंद शामिल रहे।