दो दिन से गायब किशोर के हत्‍या की धमकी, परिजनों से मांगा बीस लाख, मुकदमा दर्ज

  • फिरौती नहीं देने पर किशोर के हत्या की अपहरणकर्ताओं ने दी धमकी 
  • घटना को लेकर कई तरह की चर्चा

चंदौली : सदर कोतवाली अंतर्गत बिछियां गांव से मंगलवार से गायब किशोर के अपरहण के बाद किशोर के मोबाइल से ही 20 लाख रुपये की फिरौती की मांग के बाद पुलिस ने गुरुवार को एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरू की है।

जानकारी के अनुसार बिछिया निवासी नन्दलाल जायसवाल का 17 वर्षीय पुत्र सिद्धार्थ उर्फ बीरू मंगलवार की दोपहर से अचानक गायब हो गया था।

बताया जाता है कि उसी दिन सायंकाल सिद्धार्थ ने अपने मोबाइल से जीजा से बातचीत की थी। इसके बाद रात को पुनः सिद्धार्थ का उसके जीजा से टेलीफोन पर वार्ता हुई।

इसके बाद किशोर का मोबाइल बंद हो गया। अपने पुत्र के गायब होने के बाद किसी अनहोनी की आशंका से परेशान परिजन लगातार सिद्धार्थ की तलाश कर रहे थे।

उसका कहीं पता नहीं चल रहा था। परिजन आपमे स्तर से हर संभावित जगहों पर जाकर काफी तालाश कर रहे थे। इसी बीच गुरुवार प्रातः सिद्धार्थ के घर के मोबाइल पर फोन आया।

जिसमें 20 लाख रुपये फिरौती की मांग करते हुए नहीं देने पर उसे मार देने की धमकी दी गयी। फिरौती की मांग व लड़के को जान से मारने की धमकी मिलने से परेशान परिजन ने तत्काल सदर कोतवाली पुलिस को जानकारी देकर लिखित तहरीर दी।

तत्पश्चात पुलिस ने अज्ञात अपहरणकर्ताओं के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी है। इस बाबत सदर कोतवाल बृजेश चंद्र तिवारी ने बताया कि अपहृत किशोर के मोबाइल का अंतिम लोकेशन बिछिया का मिला है।

जिसके आधार पर पुलिस जांच करते हुये आगे बढ़ रही है। जल्द ही पूरा मामला स्पष्ट हो जायेगा। फिलहाल किशोर की तलाश में गठित पुलिस टीम बिछियां गांव स्थित अपहृत किशोर के घर पहुंचकर पूछताछ करने के बाद परिजनों से मिलकर घटना से जुड़ी जानकारी हासिल कर रही है।

हालांकि इस घटना की जानकारी होने के बाद जितनी जुबान उतनी चर्चा हो रही है। पुलिस जाँच और किशोर के सकुशल वापसी के उपरांत ही पूरा मामला स्पष्ट हो पायेगा।