चंदौली के पश्चिम वाहिनी बलुआ गंगा घाट पर मकर सक्रांति के अवसर पर श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी

चंदौली :  पश्चिम वाहिनी बलुआ गंगा घाट समेत घाटों पर गुरुवार को मकर संक्रांति के मौके पर हजारों लोगों ने गंगा नदी में आस्था की डुबकी लगाई। इस मौके पर श्रद्धालु गंगा स्नान के बाद दान-पुण्य कर रहे हैं। मकर संक्रांति के मौके पर मंदिरों में भी लोगों की भीड़ उमड़ रही है।

हाड़ कपाती ठंड के बावजूद बड़ी संख्या में लोग गंगा के विभिन्न घाटों पर पहुंचे और पवित्र स्नान कर रहें हैं। मान्यता है कि मकर संक्रांति के दिन गंगा में स्नान करने और गंगा तट पर तिल का दान करने से सारे पाप कट जाते हैं और सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।

प्रख्यात पंडित कमला पाठक ने बताया कि इसी दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते हैं और दक्षिणायन से उत्तरायण हो जाते हैं। उन्होंने कहा सूर्य के धनु से मकर राशि में जाने से ‘खरमास’ भी समाप्त हो जाता है और शुभ कार्य भी प्रारंभ हो जाता हैं।