यूपी में कोरोना पॉजीटिव का “सरताज”बना आगरा

up corona

मनोज श्रीवास्तव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आगरा में सुबह आयी रिपोर्ट में 35 कोरोना पॉजीटिव के नये मामले मिलने से हड़कंप मच गया है। पहले एक साथ 30 रिपॉर्ट पॉजीटिव आयी थी, थोड़ी ही देर में 4 और नए मामले सामने आने से नये मामलों की संख्या 34 हो गयी।अब आगरा में कुल कोरोनाग्रस्त लोगों की संख्या 104 से सीधे 138 हो गयी।

इस संदर्भ में मिली जानकारी के अनुसार इन मरीजों में आगरा के पारस अस्पताल, फतेहपुरसीकरी के गाइड जावेद अली और डॉ प्रमोद मित्तल के संपर्क में आने वालों की संख्या बड़ी है। तबलीगी जमात से जुड़े 8 जमातियों में भी 8 नये पोजेटिव मरीज पाये गये हैं। ताजा आंकड़ों में आगरा में टोटल 138 कोरोना पॉजीटिव मरीजों में 60 तबलीगी जमात से जुड़े हैं।एक मामला फिर से रिपीट हुआ है।लखनऊ में भी 4 नये मामले मिले हैं।

आज के नए मामले आने के बाद यूपी में कोरोना प्रभावित लोगों की संख्या 500 पार हो गयी। अब यूपी में 523 लोग कोरोना पॉजीटिव हो चुके हैं। 138 पॉजीटिव के साथ ताज नगरी यूपी में “सरताज” बनी हुई है। 138 कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने के बाद ताज नगरी में दहशत का माहौल बन गया है। आस-पास के लोग बहुत भारी संख्या में शहर छोड़ कर गांवों में चले गये हैं। गांव जाने वालों का कहना है कि गांव को स्वतः प्राकृतिक कोरेन्टीन हो जाता है। इस लिए शहर छोड़ कर चले आये।

जिलाधिकारी प्रभुनाथ सिंह लगातार जागरूकता से लेकर छापेमारी सब कर रहे हैं फिर भी एक निजी अस्पताल पारस अस्पताल की लापरवाही के मिले दंश से आगरा उबर ही नहीं पा रहा है।हैरत की बात ये है कि जिस पारस अस्पताल से आगरा में कोरोना ने पांव पसारा उस निजी अस्पताल के डॉक्टर के विरुद्ध प्रशासन अभी तक कोई मामला भी नहीं पंजीकृत करा पाया है