अपहृत किशोर की हत्या से दहला चन्दौली : गुरुवार को दर्ज हुआ था अपहरण का मुकदमा

  • गायब किशोर की हत्या से दहला पूरा क्षेत्र 

चन्दौली :  सदर कोतवाली क्षेत्र के बिछिया गांव से मंगलवार को अपहृत किशोर सिद्धार्थ उर्फ वीरू के रिहाई के लिए गुरुवार को 20 लाख की फिरौती मांगी गई। शुक्रवार की देर रात्रि उसकी निर्मम हत्या कर देने की सूचना के बाद पुलिस प्रशासन सहित क्षेत्र में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में मौके पर देर रात्रि पहुंची सदर कोतवाली पुलिस ने गांव के पास ही मिट्टी में दफनाये गए किशोर के शव को पुलिस ने बरामद किया।  

बिछियां गांव निवासी नंदलाल जायसवाल का 17 वर्षीय पुत्र सिद्धार्थ मंगलवार की दोपहर घर से अचानक गायब हो गया था। बताया जा रहा है कि गायब होने से पहले सिद्धार्थ की उसके जीजा से दो बार मोबाइल से बात हुई। इसके बाद उसका फोन अचानक स्विच आफ हो गया। दो दिनों तक परिजन उसकी तालाश में भटकते रहे। इसकी सूचना पुलिस को दी।

इसी बीच गुरुवार की सुबह सिद्धार्थ के पिता के मोबाइल पर सिद्धार्थ के ही नंबर से तरफ से कॉल आया। जिसमें एक व्यक्ति ने कहा कि तुम्हारा लड़का हमारे पास है। उसकी सलामती चाहते तो तो 20 लाख रुपये का तत्काल इंतजाम करो, वरना तुम्हारे लड़के को मार देंगे। मारे घबराहट के जब कुछ समझ में नहीं आया तो सिद्धार्थ के परिजन कोतवाली पहुंचे और पुलिस को मामले से अवगत कराया।

परिजनों से तहरीर के आधार पर अज्ञात अपहरणकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी। इसी बीच शुक्रवार को सूचना मिली कि सिद्धार्थ की हत्या कर उसके शव को गांव के ही पास दफना दिया गया है। इस सूचना के बाद पुलिस प्रशासन सहित क्षेत्र में सनसनी फैल गयी।

सिद्धार्थ के हत्‍या की जानकारी मिलते ही चंदौली सदर कोतवाली पुलिस घटनास्‍थल पर पहुंच गई। पुलिस अधीक्षक भी मौके पर गये, जिनकी मौजूदगी में जमीन में दफनाये गये सिद्धार्थ के शव को बरामद किया गया। पुलिस ने शव पीएम के लिये भेजने के बाद हत्‍या के कारणों को तलाशने में जुट गई है।