जानिये, कितने ट्रिलियन डॉलर की होगी यूपी की अर्थव्‍यवस्‍था

  • योगी ने उद्योमियों से कहा कि सरकार सहयोग चाहती है

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को 05 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है। भारत की इस नई विकास गाथा में योगदान करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश ने भी 01 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था विकसित करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। वर्तमान कोविड -19 आपदा से उत्पन्न स्थितियों के दृष्टिगत हम सभी को मिल कर इस लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में कार्य करना ही होगा।

उन्होंने बताया कि  राज्य सरकार उद्यमों व उद्योगों की सुविधा के लिए अनेक सुधारात्मक कदम उठा रही है। प्रदेश का तीव्र आर्थिक विकास करके 01 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य प्राप्त करने में राज्य सरकार उद्योग जगत का सहयोग चाहती है।

मुख्यमंत्री ने उद्यमियों और औद्योगिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों के सुझावों पर अमल करने की बात कहते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘राज्य सरकार उत्तर प्रदेश में औद्योगिकीकरण को प्रोत्साहित करते हुए, व्यापक स्तर पर रोजगार सृजन करने के लिए प्रतिबद्ध है। विशेष रूप से उन श्रमिकों एवं कामगारों के लिए  जो लॉकडाउन के बाद राज्य में आए हैं।

सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश को आर्थिक क्षेत्र का अग्रणी राज्य बनाने के लिए हम संपूर्ण राज्य में मैन्युफैक्चरिंग केन्द्रों की सुविधा के लिए विश्वस्तरीय बुनियादी ढांचे और त्वरित कनेक्टिविटी का विकास सुनिश्चित कर रहे हैं। लखनऊ से गाजीपुर जोड़ने वाले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे और बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे और गंगा एक्सप्रेस-वे का निर्माण कराया जा रहा है।

उन्‍होंने कहा कि एयर कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिये जेवर इंटरनेशल एयरपोर्ट बन रहा है और कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट शीघ्र ही प्रारंभ ही जायेगा। इसके अलावा, 25 घरेलू एयरपोर्ट भी रीजनल कनेक्टिविटी को मजबूत करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे निवेशक सहभागियों व उद्यमियों के हित में राज्य सरकार ने एक विशेष औद्योगिक सुरक्षा कार्य बल का गठन किया है।