…जब अटलजी के निधन की खबर आने के बाद भाजपाइयों ने बांटी मिठाई

राजीव गुप्‍ता

: प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष डा. महेंद्रनाथ पांडेय भी कार्यक्रम में रहे मौजूद : चंदौली। भारत रत्‍न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी किसी के सम्‍मान के मोहताज नहीं थे, लेकिन उनकी पार्टी के नेता उनकी मौत की सूचना के बाद भी कार्यक्रम स्‍थगित करने की बजाय मिठाई बांटते नजर आए। और इस शर्मनाक वाकया के जज और गवाह बने भाजपा यूपी के प्रदेश अध्‍यक्ष डा. महेंद्रनाथ पांडेय। बाद में इस कार्यक्रम को श्रद्धांजलि सभा बनाया गया, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। 

दरअसल, गुरुवार को चंदौली में कई जगहों पर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्रनाथ पांडेय का कार्यक्रम आयोजित था। इसी क्रम में जिला मुख्यालय स्थित अरबिंद वाटिका में भी एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें जनपद के उन पदाधिकारियों को सम्मानित किया जाना था, जिसका हाल में ही पार्टी द्वारा विभिन्‍न पदों पर मनोनयन किया गया था।

इनमें राणा प्रताप सिंह प्रदेश उपाध्यक्ष किसान मोर्चा, गीता रानी गुप्ता जिलाध्यक्ष महिला मोर्चा, अनिल गुप्ता ‘गुड्डु’ क्षेत्रीय सह संयोजक लघु उद्योग समेत कई पदाधिकारी सम्मानित किए जाने थे। कार्यक्रम 4 बजे सायं से तय था, लेकिन अपने लेटलतीफी के लिए कुख्‍यात प्रदेश अध्यक्ष व सांसद चंदौली डॉक्टर महेन्द्र नाथ पांडेय लगभग 6 बजे कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे।

इसी बीच यह सूचना आ चुकी थी कि पूर्व प्रधानमंत्री और भाजपा के कद्दावर नेता रहे अटल बिहारी बाजपेयी की पांच बजकर पांच मिनट पर निधन हो गया है। इस बीच चलते सम्मान समारोह को श्रद्धांजलि सभा मे परिवर्तित कर दिया गया। पदाधिकारियों सहित प्रदेश अध्यक्ष के संबोधन के बाद सभी ने अटल बिहारी बाजपेयी के तैलचित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित कर दो मिनट का मौन रखा तथा उनकी आत्‍मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

इसके बाद कार्यक्रम को स्‍थगित कर दिया जाना चाहिए था, लेकिन कार्यक्रम संयोजक/व्यवस्थापक ने कार्यकर्ताओं के बीच मिठाई के डिब्‍बे का वितरण शुरू कर दिया। कुछ लोगों ने इसका विरोध भी किया, लेकिन व्यस्था से जुड़े लोग पार्टी पदाधिकारियों और प्रदेश अध्‍यक्ष के सामने ही मिष्‍ठान वितरण जारी रखा। सारा कार्यक्रम प्रदेश अध्यक्ष, सभी विधायक और पदाधिकारियों की आखों के सामने होता रहा, लेकिन किसी ने इसे रोकने की जहमत नहीं उठाई।

जब मिठाई के डिब्‍बे को लेकर शोर होने लगा तो प्रदेश अध्यक्ष कार्यकर्ताओं या व्यवस्थापक को मना करने की बजाय धीरे से खिसक लिए और गंतव्य को रवाना हो गए। दूसरी तरफ जिला विस्तारक आशीष मिश्रा मिष्ठान्न वितरण से नाराज़ होकर कार्यक्रम पैर पटकते चले गए। कुछ अन्‍य कार्यकर्ताओं ने भी अपने नेता की मौत के बाद इस मिष्‍ठान वितरण पर नाराजगी जताई।

इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से दर्शना सिंह प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा, विधायक साधना सिंह, विधायक सुशील सिंह,  शमशेर बहादुर सिंह, राजकिशोर सिंह, जिलाध्यक्ष सर्वेश कुशवाहा, प्रमोद तिवारी, जिला संयोजक जितेंद्र पांडेय युवा मोर्चा के तमाम  कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

चंदौली से राजीव गुप्‍ता की रिपोर्ट.