बीच शहर में चल रहे बूचड़खाने में पुलिस ने की छापेमारी: 4 कसाईयों को असलहे के साथ किया अरेस्ट

बीच शहर में चल रहा था बूचड़खाना,पुलिस ने छापेमारी कर चार कसाईयों को असलहे के साथ दबोचा: चंदौली : मुगलसराय कोतवाली पुलिस ने बीती रात मुखबिर की सूचना पर नगर के मध्य कसाब महाल स्थित घने मुहल्ले में चल रहे बूचड़खाने में कसाईयों द्वारा क्रूरतापूर्वक भैंस को काटते हुये चार व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान मौके से भैंस काटने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले चापड़,कुल्हाड़ी,गंडासा,तराजू बटखरा,भारी मात्रा में भैंस के मांस सहित 1 तमंचा व जिंदा कारतूस भी बरामद किया है।

वहीं एक व्यक्ति मौके का फायदा उठाकर भागने में सफल रहा। एसपी हेमंत कुटियाल के निर्देश पर गौकशी व गौ तस्करों के विरुद्ध लगातार अभियान चलाये जा रहे हैं।

इसी क्रम में बीती रात गश्त पर अपने हमराहियों संग निकले कोतवाल शिवानंद मिश्रा को बजरिये मुखबिर सूचना मिली कि नगर के मध्य में घने मुहल्ले में कुछ व्यक्तियों द्वारा क्रूरतापूर्वक भैंस काटे जा रहे हैं।

जिससे क्षेत्र के लोगों में रोष व्याप्त है। सूचना को गंभीरता से लेते हुए तत्काल भारी पुलिस बल के साथ कोतवाल ने मौके पर पहुँचकर जैसे ही घेरेबंदी करनी शुरू की एक व्यक्ति पुलिस टीम पर फायर करते हुए अंधेरे में भाग निकला।

हालांकि पुलिस टीम ने उसको ललकारते हुए चारो तरफ से घेरे बंदी कर मौके पर मौजूद खून में लथपथ 4 व्यक्तियों में से एक के पास से 12 बोर का एक तमंचा व दो जिंदा कारतूस, 4 चापड़,2 कुल्हाड़ी,एक गंडासा,तथा भारी मात्रा में भैंस का कटा हुआ मांस बरामद किया।

सभी को कोतवाली लाकर जब उनलोगों से पूछताछ की गई तो उनलोगों ने क्रमशः अपना नाम नूर मुहम्मद उर्फ बाबू,पुत्र सफी निवासी कसाब महाल,जमाल कुरैशी पुत्र मन्नू निवासी कोयला बाजार,वाराणसी,जियाउल हक पुत्र वैदूल हाब,निवासी गौरीगंज, वाराणसी व गुड्डू कुरैशी पुत्र स्व जब्बार निवासी कंलगढ़हा वाराणसी बताया।

वहीं फरार हुए व्यक्ति का नाम शौकत पुत्र मुख्तार बताया। उनलोगों ने बताया कि भैंस काटकर हमलोग कसाबमहाल, मुस्लिम महाल सहित बनारस व आसपास के जिलों में सप्लाई करते हैं।

इस बाबत अपर पुलिस अधीक्षक प्रेमचंद्र ने बताया कि सभी के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है। वहीं फरार अभियुक्त की तालाश जारी है।

उक्त कार्रवाई के दौरान प्रभारी निरीक्षक के साथ एसआई सत्येंद्र विक्रम सिंह,श्रीकांत पांडेय,एचसी बृजेश पाल,राम इकबाल,कॉन्स्टेबल अजित राजभर,शैलेन्द्र उपाध्याय,गौरव सिंह व सत्येंद्र कुमार यादव शामिल रहे।