डीजल-पेट्रोल के दामों में कटौती करके योगी सरकार ने विपक्ष को किया चित्त

डीजल-पेट्रोल के दामों में मुद्दा बनाए विपक्ष को योगी सरकार ने तगड़ा झटका दिया है। केनद्र सरकार के बाद योगी सरकार ने भी वैट में कटौती की घोषणा कर दी। जिसके बाद डीजल-पेट्रोल के दाम में भारी कमी आई है। इससे जहां विपक्ष औंधे मुंह गिरा तो वहीं आम जनता और व्यापारिक संगठनों ने दीपावली के इस तोहफे का जबर्दस्त स्वागत किया है। पहले केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 5 रुपये और डीजल पर 10 रुपये एक्साइज ड्यूटी घटाई थी। इसके कुछ देर बाद ही उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी वैट में कटौती की घोषणा की। योगी सरकार ने पेट्रोल पर 7 रुपये और डीजल पर 2 रुपये का वैट घटाया। इस तरह देखें तो केंद्र सरकार और राज्य सरकार की छूट को मिलाकर दोनों की कीमतें 12 रुपये तक कम हो गईं। ऐसे में यूपी में पेट्रोल-डीजल 12 रुपये सस्ता हो गया। नई कीमतें आज से ही लागू हो गईं हैं। व्यापारिक संगठनों ने पट्रोल-डीजल के दामों पर हुई कमी पर योगी सरकार को धन्यवाद दिया है।
दीपावली पर योगी सरकार का डबल धमाका

योगी सरकार ने प्रदेशवासियों को चौतरफा खुश होने का मौका दिया है। केन्द्र के एक्साइज ड्यूटी में कटौती के फैसले के बाद राज्य में पेट्रोल-डीजल की कीमत में भी कटौती की घोषणा की है। आज (गुरुवार) से यहां पेट्रोल और डीजल 12 रुपये सस्ता हो गया है। केंद्र सरकार की तरफ से बुधवार को पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी घटाने के फैसले कुछ घंटे बाद ही प्रदेश सरकार ने राज्य स्तर पर भी एक्साइज ड्यूटी घटा दी। जिससे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में भारी गिरावट आ गई है।

इसके पहले बुधवार को अयोध्या में दीपोत्सव के दौरान प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत आगामी होली तक निःशुल्क खाद्यान्न दिए जाने की घोषणा की। इस योजना के तहत प्रदेश के 15 करोड़ जरूरतमन्द लाभान्वित होंगे। जिसमें अन्त्योदय कार्डधारकों को मिलने वाले खाद्यान्न के तहत चावल, गेहूं ही नहीं, बल्कि 01 किलो दाल, 01 लीटर खाद्य तेल, 01 किलो
नमक और 01 किलो चीनी निःशुल्क दी जाएगी। वहीं पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को मिलने वाले खाद्यान्न में 01 किलो, दाल, 01 लीटर खाद्य तेल और 01 किलो नमक निःशुल्क दिया जाएगा।
व्यापारिक संगठनों ने किया स्वागत

पट्रोल डीजल के दामों में हुई भारी कटौती से व्यापारिक संगठनों ने मोदी-योगी सरकार को धन्यवाद दिया है। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश मीडिया प्रभारी सुरेश छबलानी ने कहा कि डीजल-पेट्रोल के दाम गिरने का असर रोजमर्रा की जरूरत के सामान में दिखना शुरू हो गया है। सबसे बड़ा असर खाद्य तेलों के दाम में पड़ा है। उत्तरप्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गप्ता ने कहा कि मोदी-योगी सरकार ने डीजल-पेट्रोल के दामों में कमी करके साहसिक कदम उठाया है। योगी सरकार का यह फैसला दीपावली का सबसे बड़ा तोहफा है। वहीं उत्तरप्रदेश कपड़ा एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष अशोक मोतियानी ने कहा कि सरकार ने बहुत समय पर डीजल-पेट्रोल के दामों में कटौती की है। केनद्र की मोदी सरकार और योगी सरकार ने मिलकर दीपावली पर आम जनमानस को काफी राहत दी है।
क्या हो गईं हैं नई कीमतें

सरकार की ओर से राहत देने से पहले बुधवार को उत्तर प्रदेश में पेट्रोल की कीमत 106.96 प्रति लीटर थी, जबकि डीजल के कीमत 86.91 प्रति लीटर थी। अब इसमें क्योंकि गुरुवार से छूट लागू हो गई है. ऐसे में 12 रुपये की कटौती के बाद यूपी में गुरुवार को पेट्रोल की कीमत 94.96 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 86.91 रुपये हो गई।