चंदौली के टांडाकला होम्योपैथिक चिकित्सक का धड़ बरामद होने के दो दिन बाद मिला सिर

चंंदौली, पत्नी की बेवफाई का शिकार बने बलुआ थाना क्षेत्र के टांडा कला निवासी होम्योपैथिक चिकित्सक अरुण शर्मा की मौत से जुड़ी कहानी अभी खत्म नहीं हुई है। आपको बता दें कि विगत 30 जनवरी को मौत के घाट उतारे गए डॉक्टर का सिर रहित क्षत-विक्षत शव 6 फरवरी को नदी गांव के समीप गंगा नदी किनारे बरामद हुआ था, पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कल टाण्डा गंगा घाट पर कर दिया। वही सोमवार को चिकित्सक का सिर टांडा घाट के समीप झाड़ियों में मिला मौके पर भारी भीड़ जुट गई। सूचना पर मारुफपुर चौकी प्रभारी प्रशांत सिंह ने बरामद अवशेष को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।