इन 16 नदियों में होगा अटलजी की अस्थियों का विसर्जन, सीएम ने सौंपे कलश

: डा. महेंद्रनाथ पांडेय एवं सुनील बंसल भी रहे उपस्थित : लखनऊ : प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व पार्टी के प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने शुक्रवार को पार्टी के राज्य मुख्यालय पर भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी के अस्थि कलश पर श्रद्धासुमन अर्पित कर अस्थियों की विसर्जन हेतु कलश मंत्रियों व पार्टी पदाधिकारियों को सौंपे। सभी मंत्री व पार्टी पदाधिकारी स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश लेकर प्रदेश के 16 अलग-अलग स्थानों पर जायेंगे और वहां स्थित पवित्र नदियों में विधिपूवर्क इन अस्थियों को विसर्जित करेंगे। 

पार्टी के राज्य मुख्यालय के द्वार पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डा. दिनेश शर्मा, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया, विजय बहादुर पाठक, विद्यासागर सोनकर, गोविन्द नारायण शुक्ला ने अलग-अलग नदियों में विसर्जित करने के लिए जा रहे वाहनों पर रखे गये अस्थि कलश को श्रद्धापूवर्क नमन करते हुए उन्हें रवाना किया।

इस अवसर पर उपस्थित प्रदेश प्रवक्ता डा. चन्द्रमोहन, हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव, डा. समीर सिंह, सह मीडिया संपर्क प्रमुख नवीन श्रीवास्तव, सुधाकर सिंह कुशवाहा, अभय प्रताप सिंह, प्रदेश मुख्यालय प्रभारी भारत दीक्षित, सह मुख्यालय प्रभारी चौधरी लक्ष्मण सिंह, अतुल अवस्थी सहित बड़ी संख्या में उपस्थित पार्टी पदाधिकारी-कार्यकर्ता व आमजन अटल बिहारी अमर रहे के गगन भेदी नारे लगा रहे थे।

पार्टी के राज्य मुख्यालय के स्वर्गीय कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में स्थित प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व पार्टी के प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने अलग-अलग नदियों में अस्थियों विसर्जन हेतु मंत्रियों व पार्टी पदाधिकारियों को कलश सौंपे। इस अवसर पार्टी के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक, गोविन्द शुक्ला, मुख्यालय प्रभारी भारत दीक्षित भी उपस्थित रहे।

अयोध्या में सरयू नदी, कानपुर में बिठूर गंगा नदी व बलरामपुर में राप्ती नदी में अस्थियों का विसर्जन आज होगा। शेष अस्थियों का विसर्जन कल 25 अगस्त को अलग-अलग स्थानों पर 13 पवित्र नदियों में किया जायेगा। कलश लेकर जाने वाले मंत्री व पार्टी पदाधिकारियों का विवरण निम्नवत है:-

1 – गोरखपुर राप्ती नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद व प्रदेश मंत्री कामेश्वर सिंह।

2 – वाराणसी गंगा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री नीलकण्ठ तिवारी व प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मण आचार्य।

3 – इलाहाबाद संगम नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. महेन्द्र सिंह व प्रदेश मंत्री अमर पाल मौर्य।

4 – अयोध्या सरयू नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव व प्रदेश उपाध्यक्ष अक्षयवर लाल गौड़।

5 – झांसी बेतवा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव सिंह व प्रदेश मंत्री प्रकाश पाल।

6 – कानपुर बिठूर गंगा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री मोहसिन रजा व प्रदेश मंत्री देवेश कोरी।

7 – चित्रकूट- मंदाकिनी नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह व प्रदेश मंत्री सुब्रत पाठक।

8 – गढ़मुक्तेश्वर-गंगा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री अतुल गर्ग व प्रदेश मंत्री देवेन्द्र सिंह चौधरी।

9 – मुरादाबाद रामगंगा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भूपेन्द्र चौधरी व प्रदेश उपाध्यक्ष नबाव सिंह नागर।

10 – सोरोकासगंज नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सुरेश राणा व प्रदेश मंत्री धर्मवीर प्रजापति।

11 – बरेली रामगंगा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री बलदेव सिंह ओलख व प्रदेश उपाध्यक्ष बीएल वर्मा।

12 – सहारनपुर यमुना नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्म सिंह सैनी व प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सैनी।

13 – आजमगढ़ तमसा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेन्द्र तिवारी व प्रदेश मंत्री संजय राय।

14 – बस्ती कुआना नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री सुरेश पासी व प्रदेश मंत्री त्रयम्बक त्रिपाठी।

15 – मिर्जापुर गंगा नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनिल राजभर व प्रदेश मंत्री कौशलेन्द्र पटेल।

16 – बलरामपुर राप्ती नदी में अस्थि विसर्जन हेतु – कैबिनेट मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा व प्रदेश उपाध्यक्ष पदमसेन चौधरी।