दंगाइयों ने जलाये थे आधा दर्जन फोटो जर्नलिस्‍टों के बाइक

0
2737

लखनऊ। 19 दिसंबर को नागरिकता संशोधन एक्‍ट को लेकर हुए बवाल में कई मीडियाकर्मियों के दोपहिया वाहन भी दंगाइयों ने जला डाले. इनमें से तो कई मीडियाकर्मियों की स्थिति यह है कि उनके लिये दूसरा वाहन खरीद पाना अत्‍यन्‍त मुश्किल है. इसके अलावा अराजक भीड़ ने कई चैनलों के ओवी वैन भी फूंक डाले.

जानकारी के अनुसार प्रदर्शन के दौरान जिन मीडियाकर्मियों की बाइकें फूंकी गई हैं, उनमें अधिकांश फोटो जर्नलिस्‍ट हैं, जो फोटो लेने की जल्‍दबाजी के चक्‍कर में परिवर्तन चौक पहुंचे थे. दंगाइयों ने आधा दर्जन फोटोग्राफरों की बाइकें फूंकीं.  वाहनों के अलावा कैमरामैनों के कैमरों को नुकसान पहुंचाने के साथ इनके लेंस भी दंगाइयों द्वारा छीन लिये गये.

जिन फोटो जर्नलिस्‍टों के वाहन जलाये गये हैं, उसमें इंडियन एक्‍सप्रेस के विशाल श्रीवास्‍तव की बुलेट, एजेंसी फोटोग्राफर छोटू अली की स्‍कूटी, स्‍वतंत्र चेतना के फोटोग्राफर असफाक अली, संदेश वाहक के फोटोग्राफर सुरेश वर्मा, सहारा इंडिया के फोटोग्राफर शुभंकर चक्रवर्ती तथा दैनिक आग के फोटोग्राफर आजम हुसैन की एक-एक हीरो स्‍प्‍लेंडर बाइक शामिल है.

इसके अलावा दंगाइयों ने हिंदुस्‍तान के फोटोग्राफर सुनील रैदास, विशाल श्रीवास्‍तव तथा असफाक अली 70 से 200 लेंस क्षतिग्रस्‍त कर दिया या लेकर भाग गये. तीन चैनलों के ओवी वैन भी जला दिये गये. इसमें असफाक अली तथा सुरेश वर्मा के लिये वाहन फिर से खरीद पाना बहुत मुकिश्‍ल है. असफाक ने किस्‍त पर बाइक ली थी, जिसे बलवाइयों ने जला दिया.