कांवड़ यात्रा की रखवाली करेगा ड्रोन कैमरा, दंगाई कूंचे जाएंगे

मनोज श्रीवास्तव

: इस बार बदली दिखेगी तस्‍वीर : लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश सरकार इस बार सावन महीने में कांवरियों की सुविधा के लिए विशेष व्यवस्था कर रही है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के आईएसआई प्रभावित जिलों में थोड़ी-थोड़ी दूरी पर पुलिस पिकेट, गश्त, क्रेन, एम्बुलेंस के अतिरिक्त सफाई की विशेष व्यवस्था की जाएगी।

नदियों, घाटों, जलाशयों में कावड़ियों के स्नान, पानी भरने की बैरिकेटिंग के सुविधा के साथ गोताखोर भी तैनात किए जा रहे हैं। कांवर ले कर चलने वाले श्रद्धालुओं के लिए भोजन एवं विश्राम शिविर लगाया जाएगा। आरपीएफ को निर्देशित किया गया है कि किसी भी दशा में कावड़िये ट्रेनों की छतों पर यात्रा न करने पाएं।

महिला कावड़ियों की सुरक्षा हेतु महिला पुलिस तैनात की जाएगी। शिव मंदिरों में कावड़ियों के पूजा-अर्चना की वविशेष व्यवस्था रहेगी। राज्य के पुलिस के पुलिस प्रमुख ओपी सिंह ने भगदड़ जैसी स्थित से निपटने के लिए जिले के पुलिस प्रमुखों को मॉकड्रिल करने का निर्देश दिया है। आईएसआई प्रभावित और संवेदनशील जनपदों में दंगा नियंत्रण बल लगाया जाएगा।

अफवाहों से निपटने के लिए सोशल मीडिया पर एन्टी साइबर क्राइम फोर्स निगाह गड़ाये रहेगा। राज्यों के सीमावर्ती इलाकों में दोनों राज्यों की पुलिस संयुक्त चेकिंग अभियान चलाएगी। कांवडि़यों की सुरक्षा के लिए ड्रोन कैमरे से निगहबानी की जाएगी। गौरतलब है कि 28 जुलाई से सावन माह प्रारंभ हो रहा है।manoj

वरिष्‍ठ पत्रकार मनोज श्रीवास्‍तव की रिपोर्ट.