जैश-ए-मोहम्‍मद के दो आतंकी एटीएस की गिरफ्त में

0
56

मनोज श्रीवास्‍तव

लखनऊ। यूपी एटीएस को शुक्रवार को उस समय बड़ी सफलता हासिल हुई, जब एटीएस ने सहारनपुर जिले के देवबंद से जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया। यूपी पुलिस के महानिदेशक ओपी सिंह ने बताया कि देवबंद के एक विद्यार्थी ने एटीएस को सूचना दिया कि कुछ युवक देवबंद में बिना दाखिले की पढ़ाई की आड़ में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के लिए आतंकी भर्ती करने का कार्य कर रहे हैं।

इस इनपुट के बाद एटीएस ने जब इसकी जांच शुरू की तो संदेह प्रबल हुआ। शहनवाज तेली व आकिब अहमद मालिक एटीएस ने रडार पर लेकर पड़ताल की तो दोनों आं‍तकी गतिविधियों में लिप्‍त पाये गये। एटीएस के आईजी असीम अरुण स्वयं देवबंद जाकर इस ऑपरेशन को संचालित किया। जब एटीएस टीम ने इन दोनों के कमरे पर दबिश डाला तो इनके कमरे से बरामद वस्तुओं को देख कर टीम भौंचक रह गई।

शाहनवाज तेली के कमरे से एक 32 बोर पिस्टल और 16 जिंदा कारतूस बरामद हुआ। आकिब अहमद मालिक 32 बोर का एक पिस्टल के साथ 14जिंदा कारतूस बरामद किया। दोनों अभियुक्तों के फोन से जहरीले चैटवीडियो और फोटो बरामद किया गया। एटीएस के मुताबिक ग्रेनेड चलाने में एक्स्पर्ट शाहनवाज  तेली कुलगाम कश्मीर का रहने वाला है। यह विद्यार्थियों के बीच में विद्यार्थी बन कर रहता था और उन्हें आतंकी गतिविधियों के लिए प्रेरित करता था। बहकाने के बाद आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद  में भर्ती करते थे।

आकिब का पूरा परिवार पुलवामा में ही रह रहा है। एटीएस उसे रिमांड पर लेकर लखनऊ आ रही है। व्यापक पूछताछ की तैयारी है। एटीएस जैश आतंकी शाहनवाज़ को ग्रेनेड में महारथ हासिल है, उसे इसकी ट्रेनिंग कहां से मिली है तथा उसका  टेरर फंडिंग कौन कर रहा है इसकी भी पूछताछ एवं जांच की जाएगी। एटीएस ने देवबन्द कोतवाली क्षेत्र के मौहल्ला खानखाह में बीती रात में लगभग नाज मंजिल नाम की बिल्डिंग में किराए पर रहे 10  से 12 छात्रों सहित एक दुकानदार  को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया है। इनमें छात्र कश्मीर के  उड़ीसा एवं अन्‍य दूसरे जगहों के बताये जा रहे हैं।manoj

वरिष्‍ठ पत्रकार मनोज श्रीवास्‍तव की रिपोर्ट.