मुख्‍यमंत्री योगी की उपलब्धियों से दूरी बनाए रहे सिन्हा

0
1675

विकास सिंह सेंगर

: मोदी ने 15 लाख के वादे का साढ़े बारह लाख चुका दिया! : गाजीपुर समागम में किया मोदी का गुणगान : लखनऊ। केंद्रीय संचार राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार इंजीनियर मनोज सिन्हा ने कहा कि “गाजीपुर समागम” का जन्म मुम्बई में हुआ। मैं मुम्बई में आयोजित गाजीपुर समागम में गया था तो वहां पर गाजीपुर के लोगों के बीच कार्यक्रम इतना जोरदार हुआ कि मैंने तय कर लिया कि अब यह कार्यक्रम देश के और भागों में होगा।

श्री सिन्हा ने कहा कि कमलापति त्रिपाठी के बाद मोदी ने वाराणसी का विकास किया। चंद्रशेखरजी प्रधानमंत्री बने तो बलिया का कुछ विकास हुआ। कल्पनाथ राय ने मऊ का कुछ विकास किया था, लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गाजीपुर का ही नहीं बल्कि पूरे पूर्वी यूपी का विकास हुआ है। पूर्वी उत्तर प्रदेश विकास की धूरी बन गया है। गोरखपुर का एम्स और खाद कारखाना शीघ्र ही शुरू हो जाएगा।

उन्‍होंने कहा कि काशी हिंदू विश्वविद्यालय का स्वास्थ्य विभाग दिल्ली के एम्स से 50 बेड़ से ज्यादा बड़ा रहेगा। आज काशी में अखिल भारतीय स्तर का कैंसर इंस्टीट्यूट बन गया, जो विश्व स्तरीय है। सिन्हा के अनुसार वाराणसी देख कर उनके एक मित्र ने कहा कि अब अगर आप विकास के पैमाने पर अगर तुलना करेंगे तो इंफ्रास्ट्रक्चर और रोड के क्षेत्र में बनारस और बैंगलुरू में कोई बहुत अंतर नहीं रह गया है। आवश्यक संसाधन हो या रेल पूर्वांचल में सबका अभूतपूर्व विकास हुआ है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अभी तक तो हम विकास से अछूते थे, लेकिन आने वाली पीढ़ी मोदी सरकार को अवश्य धन्यवाद ज्ञापित करेगी। 25 दिसम्बर के आस-पास 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार की ट्रेन चलेगी। 2019 तक देश के सभी जनपदों में गांव-गांव हाई स्पीड  इटरनेट सेवा होगी। गाजीपुर से गाड़ी चलेगी यह मैं खुद नहीं सोचता था। आज गाजीपुर से देश के किसी भी कोने आप ट्रेन से जा सकते हैं। विकास की तुलना मोदी के पहले और मोदी के साथ करियेगा तो पता चल जाएगा कि कितना विकास हुआ है।

सिन्हा ने बताया कि उनके जानने वाले एक ग्रामीण ने बताया कि जो लोग कहते हैं कि मोदी जी 15 लाख नहीं दिया उन्हें कुछ नहीं मालूम है।  मोदी साढ़े बारह लाख दे चुके हैं। हालांकि उसने 15 लाख देने की बात वह खुद नहीं कभी सुना था। मोदी ने 2 लाख का जनधन, 2 लाख का बीमा, आयुष्मान भारत के माध्यम से 5 लाख का मेडिकल रिकवरी दिया, साढ़े आठ हजार का गैस चूल्हा और कनेक्शन, सिन्हा ने बताया कि उनके मित्र ने बताया कि 15 लाख देने की बात करने वाले सुन लें मोदी सरकार ने 12.50 लाख दे दिया है, हो सकता है कि शेष छह माह में वह भी ढाई लाख भी दे दे।

श्री सिन्‍हा ने कहा कि मोदी ने तमाम विरोध के बाद भी भारत को दुनिया के सबसे तेज आर्थिक विकास से उभरने वाला देश बनाया है। पूरे कार्यक्रम में केवल एक बार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जिक्र करते हुए कहा कि योगीजी सभी जनप्रतिनिधियों से एक-एक प्राइमरी स्कूल गोद लेने को कहा, वह बहुत सराहनीय कार्य है। पहले यह सूचना आती थी कि अमुक गांव का बच्चा किसी बड़े प्रतियोगी परीक्षा में स्थान पाया है, अब सूचना मिलती है कि अमुख गांव का बच्चा जिसका परिवार किसी अमुख महानगर में रहता है। वह किसी बड़ी प्रतियोगी परीक्षा में कामयाब हुआ है।

उन्‍होंने कहा कि गांव जाना शुरू करें। शहरी ग्रामीण और अपने गांव की सफाई पर ध्यान केंद्रित करें। मैंने गाजीपुर के 32 हजार से ज्यादा बच्चों का पत्र प्राप्त कर तय किया है कि  गाजीपुर की पहचान क्या होगा? पौहारी बाबा आश्रम और सहजानंदजी की पहचान को मजबूत करेंगे। अति निर्धन लोगों को परंपरागत व्यवसाय से उठा कर आधुनिक संसाधनों से जोड़ के उनका जीवन स्तर सुधार लिए तो इस समागम अभियान की सार्थकता होगी। सिन्हा ने केंद्र सरकार की उपलब्धियों की झड़ी लगा दी, लेकिन प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को गिनाने से दूरी बनाए रखे।