एनकाउंटर में घायल अंतरप्रांतीय हिस्ट्रीशीटर को पुलिस ने किया गिरफ्तार,डेढ़ दर्जन आपराधिक मुकदमें यूपी- बिहार में हैं दर्ज

पुलिस मुठभेड़ में अंतरप्रांतीय हिस्ट्रीशीटर को लगी गोली मौके से दो बदमाश फरार घायल हिस्ट्रीशीटर को इलाज के लिए पुलिस ने कराया अस्पताल में भर्ती : चंदौली : चकिया कोतवाली अंतर्गत जलेबिया मोड़ स्थित गरला पहाड़ी के समीप गुरुवार अलसुबह पुलिस और अपराधियों के बीच हुए एनकाउंटर में एक हिस्ट्रीशीटर अंतरप्रांतीय अपराधी पैर में गोली लगने से घायल हो गया वहीं अँधेरे का लाभ उठाकर उसके दो अन्य साथी भागने में सफल रहे। घायल हिस्ट्रीशीटर अपराधी को पुलिस ने एक तमंचा,2 जिंदा कारतूस व एक खोखा के साथ गिरफ्तार कर इलाज के लिए चकिया स्थित जिला संतुक्त चिकित्सालय में इलाज के लिए भर्ती कराया। घटना स्थल से पुलिस ने चोरी की बोलेरो पर लदे 4 गौवंश को कब्जे में ले लिया है। पुलिस की गिरफ्त में आया मुकद्दस नामक हिस्ट्रीशीटर चंदौली स्थित वार्ड नंबर 5 का निवासी है तथा उसके विरुध्द हत्या,लूट,चोरी व गौ तस्करी से संबंधित लगभग डेढ़ दर्जन मुकदमें यूपी व बिहार के विभिन्न थानों में दर्ज हैं।

जानकारी के मुताबिक लगभग 3 सप्ताह पूर्व शहाबगंज थानाक्षेत्र के अमाव गांव से एक बोलेरो चोरी हुई थी। जिसका मुकदमा शहाब8 थाने में दर्ज कराया गया था।

एसपी हेमन्त कुटियाल के निर्देश पर उक्त मुकदमें के अनावरण के लिए क्षेत्राधिकारी चकिया जगतराम कि कन्नौजिया के निर्देश पर गुरूवार अल सुबह शहाबगंज थानाक्षेत्र के तियरा मोड़ के पास चेकिंग की जा रही थी।

तभी वध के लिए गौवंश लादकर ले जा रहे एक बोलेरो को रुकने का इशारा किया गया तो उसने स्पीड बढ़ा दी और भागने लगा।

जिसकी सूचना चकिया कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व सीओ चकिया को दी गयी। सूचना मिलते ही स्वाट टीम प्रभारी निरीक्षक के साथ चकिया कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने भारी पुलिस बल के साथ जलेबिया मोड़ स्थित गरला पहाड़ी के पास नाकेबंदी कर वाहनों की जाँच शुरू कर दी।

इसी बीच उक्त बोलेरो आता दिखाई पड़ा तो उसे रुकने का इशारा किया गया तो उसने वाहन को सड़क किनारे उतार कर भागने का प्रयास किया और पुलिस को।लक्ष्य कर फायरिंग कर दी।

जबाबी करवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की जिसमें मुकद्दस नामक एक अपराधी के पैर में गोली लग गयी। वहीं अंधेरा होने के कारण उसके दो अन्य साथी भागने में सफल हो गए।

पुलिस ने मौके से चोरी की बोलेरो पर लदे 4 गौवंश को कब्जे में ले लिया तथा घायल हिस्ट्रीशीटर अपराधी मुकद्दस को एक अदद तमंचा,2 जिंदा कारतूस व एक खोखा के साथ गिरफ्तार करने के बाद उसे इलाज के लिए जिला संयुक्त चिकित्सालय चकिया में भर्ती कराया।

जहां उसका इलाज चल रहा है। इस बाबत सीओ चकिया जगतराम कन्नौजिया ने बताया कि यह हिस्ट्रीशीटर अपराधी है।

इसके खिलाफ यूपी और बिहार के विभिन्न थानों में हत्या,लूट,छिनैती व गौ तस्करी से संबंधित लगभग डेढ़ दर्जन मुकदमें दर्ज हैं।

इसने विगत 16 सितंबर को बोलेरो चुराया था जिसका मुकदमा दर्ज कर शहाबगंज पुलिस उसके बरामदगी के प्रयास में लगी हुई थी। लेकिन चोरों ने उक्त बोलेरो को पशुओं के लादने लायक बनवाने के बाद उसका रंग रोगन करवा कर उसपर गौ तस्करी का कार्य हो रहा था।

उक्त एनकाउंटर,गिरफ्तारी और बरामदगी करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक चकिया रहमतुल्लाह खाँ, प्रभारी निरीक्षक शहाबगंज अवनीश कुमार राय,

स्वाट टीम प्रभारी निरीक्षक सत्येन्द्र कुमार यादव व निरीक्षक अभय सिंह, स्वाट टीम व उ0नि0 अमित कुमार सिंह,उ0नि0अमीरुद्दीन खाँ, उ0नि0 आनन्द कुमार भारी पुलिस बल के साथ मौजूद रहे।