लखनऊ में लाठीचार्ज की चंदौली के पूर्व सांसद रामकिशुन ने की निंदा  

0
2046

: कहा- छात्र, किसान एवं गरीब विरोधी है यह सरकार : लखनऊ : केंद्र सरकार द्वारा एनईईटी और जेईई परीक्षा कराए जाने का विरोध जारी है। विपक्षी दल इस परीक्षा को मुद्दा बनाकर इसका विरोध कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को राजभवन का घेराव किया तथा नारेबाजी की। पुलिस को सपा के कार्यकर्ताओं को हटाने के लिये लाठीचार्ज करना पड़ा।

समाजवादी छात्र सभा के कार्यकर्ता दोपहर को राजभवन के सामने पहुंच कर सरकार विरोधी नारे लगाते हुए राजभवन घेरने जा रहे थे। छात्र सभा के कार्यकर्ताओं ने कहा कि नीट एवं जेईई परीक्षा कोरोना काल में कराना उचित नहीं है। यह कार्य उनके जीवन को खतरे में डालने जैसा है। छात्र जब उग्र हुए तो पहले से ही भारी संख्या में पुलिस ने इन्‍हें हटाने के लिये लाठीचार्ज कर दिया। इनमें कई कार्यकर्ता घायल हो गये।

EX MP
पूर्व सांसद रामकिशुन यादव

इन कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन भेजा जा रहा है। इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने नीट एवं जेईई का परीक्षा कराये जाने का विरोध जताया था। लखनऊ में हुए लाठीचार्ज की चंदौली से सपा के पूर्व सांसद रामकिशुन यादव ने निंदा की।

पूर्व सासंद ने कहा कि भाजपा सरकार निरंकुश हो चुकी है। छात्रों तथा युवाओं के साथ अपराधियों जैसा व्‍यवहार किया जा रहा है। छात्र सभा के कार्यकर्ताओं पर जिस तरह से पुलिस ने लाठीचार्ज किया, वह अत्‍यंत खेदजनक है। सरकार जनहित की बजाय अपने हित में काम कर रही है। उसे आम लोगों गरीब, किसान तथा छात्रों की कोई चिंता नहीं है।