नई शैली और सब्‍जेक्‍ट के साथ एक्‍सपेरिमेंट करना चाहूंगी : आनंदिता दासगुप्‍ता

cinema

: बंगाली के बाद अब हिंदी फिल्‍म की ओर बढ़ाए कदम : मुंबई (न्‍यूज हेल्‍पलाइन) : मीडिया से बातचीत के दौरान बंगाली फिल्म निर्माता अनन्दिता दासगुप्ता  ने कहा कि उन्हें हर बार नई शैली के साथ एक्सपेरिमेंट करना अच्छा लगता है।  हिंदी सिनेमा में डेब्यू करने वाली अनन्दिता से पूछा गया कि वह किस तरह के प्रोजेक्ट्स पर काम करना चाहती है, तो वह बोली, “मैं उन फिल्मों को बनाना चाहती हूं जिन्हें बनाने का तरीका थोडा अलग हो, कुछ खास हो। ऐसी फिल्में जो अलग-अलग सब्जेक्ट्स की नई कहानी कहे, और हो सके तो मैं हर बार एक नई शैली के साथ एक्सपेरिमेंट करना चाहूंगी।”

दासगुप्ता बॉलीवुड उद्योग में ‘आम पब्लिक एंटरटेनमेंट’ बैनर के तहत अपनी पहली हिंदी फिल्म से काफी चर्चाओं में हैं। यह प्रोजेक्ट 2018 में शुरू हुआ था और अब उस पर प्री-प्रोडक्शन का काम चल रहा है। जब उनसे प्रोडक्शन हाउस के नाम का तात्पर्य बताने को कहा, तो वह बोली, “मैं आम जनता के लिए एक फिल्म बना रही हूं, सिर्फ मेरी संतुष्टि के लिए फिल्म नहीं बना रही! अगर मैं खुद के लिए फिल्म बनाती तो मोबाइल पर शूट करती और मजे से अपने परिवार के साथ घर पर देखती! जब मैं आम जनता के लिए फिल्में बना रही हूँ, तो यह नाम मेरी प्रोडक्शन कंपनी के पीछे प्रेरणा और विचारधारा को दर्शाता है और एकदम सही है। वैसे भी मैं खुद को आम इंसान ही मानती हूँ।”

अपनी डेब्यू फिल्म के बारे में बात करते हुए अनन्दिता बताती हैं कि उनकी यह फिल्म एक सोशल मेसेज पर आधारित है। वह बोली, “यह एक सोशल मेसेज आधारित कमर्शियल ड्रामा है। कहानी का प्लाट इस बात की चर्चा करता है कि पैसा जरूरी हैं या नहीं? यह एक गेम शो आधारित कमर्शियल ड्रामा है। और फिल्म की शूटिंग के बारे में मैं आपको प्री-प्रोडक्शन का काम पूरा होने के बाद बताउंगी।”

वे बताती हैं, ”अगर कास्टिंग की बात करें तो यह निर्भर करता है आपसी समझ पर, व्यावसायिक दृष्टिकोण और काम करने का समनवय कितना है, ये सब चीज मायने रखती हैं। जब कोई इन 3 मापदंडों को पूरा कर दे, मैं उसके लिए हाँ कर देती हूँ, फिर भले वो एक अभिनेता, कोई सेलिब्रिटी या कोई न्यू-कमर हो। मुझे उन लोगों के साथ काम करने में खुशी मिलती है, जो अपने काम में पेशेवर हों।” अनन्दिता दासगुप्त कोलकाता से हैं। इन्होंने पहले एक बंगाली फिल्म डायरेक्ट की है, जिसका नाम ‘बांध’ है। इस फिल्म में बंगाली फिल्म उद्योग के बड़े नाम जैसे सुमित्रा चटर्जी, खारज मुखर्जी, देबुत घोष इत्यादि शामिल हैं।