स्कूल फीस को लेकर अभिभावकों का पारा सातवें आसमान पर : कैंडल मार्च निकालकर की फीस माफी की मांग

कोरोना काल की स्कूलों में फीस माफी की मांग को लेकर अभिभावकों का पारा सातवे आसमान पर : कैंडल मार्च निकाल कर की फीस माफी की मांग :  चंदौली : प्राइवेट स्कूल प्रबंधनों द्वारा कोरोना काल के फीस का दबाव बनाने से नाराज पीडीडीयू नगर के सैंकड़ों अभिभावकों ने आज कैंडल जुलूस निकाल कर फीस माफ करने की मांग की है। लोगो की मांग है कि जब पढ़ाई ही नहीं हुई तो फीस माफ होनी चाहिए।

एक तरफ कोरोना महामारी में लगातार लॉकडाउन की वजह से लोगों की कमर टूट चुकी है वहीं दूसरी ओर निजी विद्यालयों के प्रबंधन समिति का फरमान अभिभावकों के पसीने छुड़ाए हुए है। अभिभावक कोरोना काल के महीनों की फीस माफी के लिए मांग कर रहे हैं लेकिन निजी स्कूल के प्रबंधनों ने फीस माफ करने से इनकार कर दिया है।

जिस कारण अभिभावक अब सड़क पर उतर चुके हैं। पढ़ाई नहीं तो फीस नहीं कि मांग को लेकर सोमवार की सायं अभिभावकों का गुस्सा फूट पड़ा। सैंकड़ों की संख्या में अभिभावक स्थानीय लॉट नंबर 1 स्थित शायर माता मंदिर चौराहे पर सायं 5 बजे इकट्ठा हुये।

जहां सर्वप्रथम शहीद भगत सिंह की जयंती के अवसर पर सभी अभिभावकों ने शहीद भगत सिंह को श्रद्धा सुमन अर्पित किया। तत्पश्चात सभी ने हाथों में स्लोगन लिखी दफ़्तिया और कैंडल जलाकर जुलूस निकाला।

कोरोनाकाल में प्राइवेट स्कूलों द्वारा लगातार फीस के लिए अभिभावकों पर दबाव बनाने , बच्चों का नाम काटने, स्थानांतरण प्रमाण पत्र न देने इत्यादि समस्याओं के विरोध में नारेबाजी व प्रदर्शन करने लगे।

इस दौरान “NO SCHOOL NO FEES” का नारा भी लगाया गया। गौरतलब है कि कोरोना काल में सभी स्कूल बंद हैं , अभिभावकों के काम धंधे भी बंद है । परंतु प्राइवेट स्कूलों द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर मोटी रकम मांगी जा रही है।

स्कूल प्रबंधकों ने पूरी फीस लेने का फरमान सुनाया है। जिससे अभिभावक बेहद आक्रोश में है। हालांकि आमदिनों में अभिभावक स्कूलों की सभी मांगों को निर्विरोध पूरा करते आये हैं। जिसका फायदा उठाते हुए प्राइवेट स्कूल मनमानी करते हैं।

ये विद्यालय बच्चों से ट्यूशन फीस के अलावा टर्मिनल फीस, बिल्डिंग फीस, कंप्यूटर फीस, लैबरोटरी फीस,लाइब्रेरी फीस, कम्पोजिट फीस सहित कई मदों में वसूली कर अपनी तिजोरी भरते रहे हैं।

ऐसे में कोरोना काल में आर्थिक तंगी से जूझ रहे अभिभावकों ने अपनी मांग जबरदस्त तरीके उठायी है। अभिभावक अब आर-पार के मूड में दिख रहे हैं।कैंडल मार्च में, विकास खरवार, राजेश गुप्ता, कुलविंदर सिंह, दिनेश शर्मा, प्रकाश गुप्ता, ललित जी, एसके भाई,आनंद गुप्ता, अमित महलका, रंजीत भट्टाचार्य, रोहित सचदेवा

दुर्गेश मिश्रा, ऋषि मिश्रा , शशि मिश्रा, हरिश्चंद्र पटेल, मुकेश अग्रवाल, सुनील जयसवाल, तथागत अधिकारी,विजय गुप्ता ,संतोष,कृष्णावती,अभिषेक तारा, श्वेता सिद्धिदात्री, विनीता गुप्ता, हर्षिता गुप्ता, पवन जयसवाल, लोकेश जोशी, मुन्ना दादा, कल्लू जायसवाल, संता सिंह, अमित गुप्ता, आदि लोग मौजूद थे।