‘हम कुछ भी कर सकते हैं’ अवार्ड्स में अमेठी के किशोरों व किशोरियों को किया गया सम्मानित

अमेठी। राष्ट्रीय एनजीओ पॉपुलेशन फ़ाउंडेशन ऑफ़ इंडिया (पीएफआई) और सेव अ मदर फ़ाउंडेशन ने साथ मिलकर एक अवार्ड शो ‘हम कुछ भी कर सकते है का आयोजन किया, जो हाल ही में यूपी के अमेठी में संपन्न हुआ। इन पुरस्कारों का उद्देश्य किशोरों और किशोरियों को समाज के प्रति उनके योगदान के लिए सम्मानित करना है। ६ ‘रियल लाइफ हीरोज़’ (सभी किशोर) को उनके संबंधित समुदायों में मुख्य रूप से स्वच्छता, परिवार नियोजन और बाल विवाह के क्षेत्रों में सुधार लाने और इन क्षेत्रों में असाधारण काम के लिए सम्मानित किया गया। ये किशोर-किशोरियां हैं अमिता (भिकिपुर), कमलेश (भादर), मंशा (असानी तिलोई), साओज (मोचवा), सीमा (महाराजपुर) और सबनम (ताला)।

‘हम कुछ भी कर सकते हैं’ अवार्ड्स, एडुटेनमेंट शो ‘मैं कुछ भी कर सकती हूँ’ के तीसरे सीजन के सफल प्रसारण के बाद पीएफआई द्वारा उठाया गया अगला कदम है| ‘मैं कुछ भी कर सकती हूँ’ जिसने राष्ट्रीय प्रसारण माध्यम दूरदर्शन पर तीसरा सीजन सफलतापूर्ण पूरा किया, महिलाओं के अधिकारों जैसे मुद्दों को संबोधित करता है, और युवाओ में यौन और प्रजनन स्वास्थ्य पर शिक्षा को बढ़ावा देता है। यह स्वच्छता के मुद्दे पर सामाजिक-सांस्कृतिक बाधाओं को भी संबोधित करता है। एनजीओ सेव ए मदर व पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया (पीएफआई) द्वारा अमेठी के लोगों को इन मुद्दों के कार्यान्वयन के प्रति सकारात्मक प्रतिक्रिया को प्रोत्साहित करने के लिए शो से जुड़े सबसे प्रभावी क्लिप दिखाए गए।

पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया (पीएफआई) एक एनजीओ है जो लिंग-संवेदनशील जनसंख्या, स्वास्थ्य और विकास से जुडी नीतियों के प्रभावी निर्माण और कार्यान्वयन को बढ़ावा देता है। उत्तर प्रदेश के अमेठी और कानपुर देहात के अलावा, राजस्थान और बिहार के दो जिलों में भी पुरस्कार आयोजित किए गए हैं।