भाजपा सरकार के सुशासन की झांकी भी दिखेगी कुंभ में : डा. चन्द्रमोहन

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि इलाहाबाद में आयोजित होने वाले कुंभ को लेकर देश और विदेश में जिस तरह का माहौल बनना शुरू हुआ है वह अभूतपूर्व है। प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने जिस तरह से सुशासन का महौल बनाया है उसने भाजपा सरकार के डेढ़ वर्ष के कार्यकाल में ही यूपी की छवि बदल कर रख दी है। इसी बदली छवि से अब उत्तर प्रदेश देश विदेश में मौजूद निवेशकों को आकर्षित कर रहा है साथ ही अब पर्यटक भी बिना किसी हिचक के यूपी की तरफ रुख करने लगे हैं। 

प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता डा. चन्द्रमोहन ने कहा कि इलाहाबाद में कुंभ के आयोजन में अभी तीन महीने से कुछ ज्यादा का समय शेष रह गया है लेकिन इटली जैसे यूरोपीय देशों से पर्यटकों का दल यूपी पहुंचने लगा है। चार सितंबर को कुंभ की वेबसाइट शुरू होते ही जिस तरह यह सोशल मीडिया में वायरल हो गई उससे पता चलता है कि देश ही नहीं बल्कि विदेश में इलाहाबाद में होने वाले कुंभ के प्रति लोगों में अपार उत्साह है और लोग इस अभूतपूर्व आयोजन का हिस्सा बनने के लिए बेताब हैं। इससे संकेत मिल रहा है कि विश्व के सबसे बड़े आयोजन कुंभ में प्रदेश की भाजपा सरकार का सुशासन चार चांद लगाएगा।

प्रदेश प्रवक्ता डा. चन्द्रमोहन ने कहा कि कुंभ के प्रति समाज के हर वर्ग और प्रदेश के हर क्षेत्र को एक सूत्र में बांधने के लिए प्रदेश सरकार पांच वैचारिक कुंभ भी आयोजित करेगी। इनमें युवा कुंभ लखनऊ में, पर्यावरण कुंभ वाराणसी में, मातृ कुंभ वृंदावन में, समरसता कुंभ अयोध्या में और संस्कृति कुंभ प्रयाग में होगा। कुंभ के आयोजन को अभूतपूर्व बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने पूरी ताकत झोंक दी है। कुंभ मेला परिसर को श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए सजाया जा रहा है। मेला क्षेत्र में बिजली की निर्बाध आपूर्ति करने के लिए सरकार ने 200 करोड़ से अधिक का बजट स्वीकृत किया है। विदेशों से आने वाले पर्यटकों के लिए इलाहाबाद में हवाई अड्डे को नया रूप दिया जा रहा है।

प्रदेश प्रवक्ता डा. चन्द्रमोहन ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं कुंभ से जुड़ी तैयारियों की निगरानी कर रहे हैं। भाजपा सरकार ने कुंभ की तैयारी में किसी प्रकार की कसर न रह जाए इसके लिए सक्षम अफसरों को मेला परिसर की जिम्मेदारी सौंपी है। कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं की अगवानी के लिए भाजपा सरकार जिस तरह के प्रबंध कर रही है उससे न केवल उत्तर प्रदेश को विश्व में एक नई पहचान मिलेगी अपितु भाजपा राज में सुशासन की झांकी भी लोगों के सामने होगी।