मुख्‍तार के इन तीन करीबियों पर पुलिस की नजर, जानिये कौन हैं ये

: दोनों बेटे भी चल रहे हैं फरार : यूपी पुलिस ने तोड़ दी है मुख्‍तार गैंग की कमर : लखनऊ : योगी सरकार बाहुबली मुख्तार अंसारी के गिरोह और अवैध आर्थिक साम्राज्य को नेस्‍ताबूद करने जुटी हुई है। यूपी पुलिस अब तक उसके कई करीबियों को अरेस्‍ट करने तथा अवैध आय का संसाधन ध्‍वस्‍त करके मुख्‍तार को बड़ा झटका दिया है। अब पुलिस की नजर उसके तीन बेहद करीबी लोगों पर लगी हुई है।

ये तीनों मुख्‍तार की अवैध कमाई को खपाने का काम करते हैं। तीनों लगातार अपनी लोकेशन बदल रहे हैं। पुलिस और इनके बीच चूहे-बिल्‍ली का खेल लगतार जारी है। पुलिस इन तीनों के साथ मुख्‍तार के दोनों पुत्रों उमर और अब्‍बास को तलाश रही है। इसके लिये पुलिस की तीन टीम लगाई गई हैं। दावा है कि पुलिस इन तीनों करीबियों के बेहद नजदीक पहुंच चुकी है।

पुलिस कमिश्नर ने पूर्वांचल के पुलिस अधिकारियों से भी इस संदर्भ में कई महत्‍वपूर्ण जानकारियां साझा की है। मुख्तार के दोनों बेटों का गैर जमानती वारन्ट लेने की कवायद भी की जा रही है। डालीबाग में जमीन पर कब्‍जा कर अवैध मकान बनाने के मामले में पुलिस ने मुख्‍तार के दोनों बेटों पर हरजतगंज कोतवाली में मामला दर्ज कराया था।

दोनों के फरार हो जाने के बाद पुलिस ने दोनों पर  25-25 हजार रुपए इनाम घोषित कर दिया था। करोड़ों रुपए की अनाधिकृत जमीन से कब्जा हटवाने के बाद प्रशासन ने मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी व उनके साले सरजील रजा और अनवर शहजाद पर गैंगस्टर की कार्रवाई की है।

पुलिस का कहना है कि मुख्तार के साथ मिलकर सभी संगठित आपराधिक गिरोह के रूप में अपराध करते हैं। सभी के खिलाफ गाजीपुर सदर कोतवाली में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने मुख्तार अंसारी और उनके गिरोह के आर्थिक साम्राज्य पर भी गहरी चोट की है, जिससे मुख्तार गिरोह की सालाना 48 करोड़ रुपए की आय बंद हो चुकी है।