चर्चित डीएसपी शैलेंद्र सिंह की भतीजी ने पास किया यूपी पीसीएस, जिले में प्रसन्‍नता

pcs

अरविंद कुमार

  • वाणिज्‍य कर अधिकारी के पद पर हुआ चयन

चंदौली : ”कदम चूम लेती है बढ़कर-ए-मंजिल मुसाफिर अगर अपनी हिम्मत न हारे” इन पंक्तियों को स कर दिखाया है चंदौली जिले के सैयदराजा के फेसुङा गाँव की राजश्री ने। किसान पिता की होनहान एवं प्रतिभावन पुत्री ने अपने दादा और चाचा के पदचिन्‍हों पर चलते हुए उत्‍तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की परीक्षा पास कर जनपद का नाम रोशन किया है।

राजश्री वाणिज्य कर अधिकारी बनने में सफलता प्राप्‍त की हैं। पिता धीरेन्द्र कुमार सिंह एवं माता मंजू सिंह की इस होनहार पुत्री की प्रारम्भिक शिक्षा रानी मुरार कुमारी बालिका इण्टर कालेज वाराणसी से हुई। यूपी कालेज से बीएसएसी तथा एमएससी प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की करने के साथ महात्‍मा गांधी काशी विद्यापीठ से बीएड किया।

आईएएस बनने का लक्ष्‍य लेकर चल रही राजश्री ने यूपी पीसीएस परीक्षा पास कर परिजनों के साथ जिले को भी खुश होने का मौका दिया है। अपनी सफलता का श्रेय राजश्री ने अपने माता, पिता के साथ चर्चित डीएसपी रहे शैलेंद्र कुमार सिंह को दिया। राजश्री अपने परिवार की तीसरी पीढ़ी हैं, जो इस पद पर पहुंची हैं।

इनके दादा स्‍वर्गीय जगदीश सिंह डीएसपी थे तथा चाचा शैलेंद्र कुमार सिंह भी यूपी पीसीएस परीक्षा पास कर डीएसपी के पद पर चयनित हुए थे। वे मुख्‍तार अंसारी गैंग को एलएमजी खरीदने के मामले में पकड़ना चाहते थे, लेकिन तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने उन्‍हें ऐसा करने से मना किया। ईमानदारी के लिये चर्चित शैलेंद्र कुमार सिंह ने दबाव में नौकरी करने की बजाय इस्‍तीफा दे दिया।

आज कल शैलेंद्र कुमार सिंह कृषि एवं कृषि उद्योग से जुड़े क्षेत्र में काम कर रहे हैं। ऐसे परिवार से आने वाली राजश्री के यूपी पीसीएस में चयनित होने पर क्षेत्र के लोगों ने भी खुशी का इजहार किया। परिजन तथा रिश्‍तेदार राजश्री के चयनित होने की खुशी में अपने जान पहचान वालों के बीच मिष्‍ठान वितरण किया तथा खुशी मनाई।