संजय शर्मा पर सरकारी आवास का लाखों का किराया बाकी, खाली कराने के मूड में आरएसए

0
2599
RSA

: कई बार नोटिस दिये जाने के बाद भी नहीं सौंप रहे चाभी : 9 लाख 70 हजार रुपये से ज्‍यादा किराया बाकी : लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में आवंटन रद्द होने के बाद भी अवैध तरीके से रह रहे पत्रकारों से सरकार मकान खाली कराने जा रही है। खबर है कि प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्‍थी के निर्देश पर राज्‍य संपत्ति अधिकारी शुभ्रांत शुक्‍ला इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने जा रहे हैं। इस मामले में ऐसे पत्रकार पहले चिन्हित किये जा रहे हैं, जिनका राजधानी लखनऊ में अपना आवास है तथा जिन पर मोटा किराया बाकी है।

बताया जा रहा है कि राज्‍य संपत्ति विभाग द्वारा भेजी गई नोटिसों को गंभीरता से नहीं लेने पर अब राज्‍य सम्‍पत्ति अधिकारी शुभ्रांत शुक्‍ला अपने तेवर तीखे करने जा रहे हैं। शुभ्रांत की गिनती उत्‍तर प्रदेश के ईमानदार अधिकारियों में होती है। विभागीय सूत्रों से जो खबर आ रही है, उसमें बताया जा रहा है कि शुभ्रांत ने इस काम की जिम्‍मेदारी अपने सहयोगी सहायक राज्‍य सम्‍पत्ति अधिकारी अजीत कुमार को दी है।

शुभ्रांत शुक्‍ला इस काम की शुरुआत वीकएंड टाइम्‍स के संपादक संजय शर्मा से कर सकते हैं। संजय शर्मा पर राज्‍य सम्‍पत्ति विभाग का लगभग दस लाख रुपये के आसपास बकाया है। कई बार नोटिस दिये जाने के बावजूद संजय शर्मा बी-29 बटलर पैलेस को खाली नहीं कर रहे हैं, ज‍बकि उनके पास खुद का निजी आवास गोमती नगर में है। वह इस सरकारी आवास का उपयोग भी रहने में नहीं कर रहे हैं।

सरकार की मंशा है कि जिन आवासों का उपयोग नहीं हो रहा है, उसे खाली कराकर जरूरतमंद अधिकारियों को आवंटित किया जाये। विभागीय सूत्र बता रहे हैं कि सरकार ऐसे पत्रकारों को चिन्हित कर रही है, जिनका लाखों का बिल बकाया है तथा वे अवैध तरीके से सरकारी आवासों पर कब्‍जा जमाये हुए हैं। संजय शर्मा को कई बार नोटिस भेजे जाने के बाद भी अपना आवास खाली नहीं कर रहे हैं, लिहाजा राज्‍य सम्‍पत्ति अधिकारी इसे बलपूर्वक खाली करा सकते हैं।