आजादी के 70 वर्ष बाद पं. दीनदयाल उपाध्याय का सपना साकार हुआ : मुख्यमंत्री

yogiji

: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पड़ाव में पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा के लोकार्पण और महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाने के अवसर पर जनसभा को सम्बोधित किया : प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश नई ऊंचाइयों को छू रहा है : चंदौली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कारण हर गरीब को मकान, राशन, व्यक्तिगत शौचालय, स्वास्थ्य की बेहतर सुविधा और विद्युत का कनेक्शन मिल पाया है। आज देश नई ऊंचाइयों को छू रहा है। अन्तिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को विकास की योजनाओं का लाभ पहुंचाने का जो सपना 5 दशक पहले पं. दीनदयाल उपाध्याय जी ने देखा था, आजादी के 70 वर्षों के बाद वह सपना साकार हुआ है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पड़ाव में पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा के लोकार्पण और काशी-महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाने के अवसर पर जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि हम सब जानते हैं कि काशी बाबा विश्वनाथ जी की पावन धरती है। युगों-युगों से काशी की गाथा दुनिया में गाई जाती रही है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 100 वर्ष पहले 1916 में जब पूज्य बापू काशी आते हैं, तो काशी की गन्दी गलियों को देखकर टिप्पणी करते हैं। आजादी के कई वर्षों बाद तक किसी की भी नजर गांधी जी के उन वचनों पर नजर नहीं पड़ी, लेकिन काशी के लोकप्रिय सांसद नरेन्द्र मोदी की पड़ी। आज काशी में बाबा विश्वनाथ धाम को लेकर कई परियोजनाएं चल रही हैं। एक बार फिर से दुनिया की निगाहें काशी की और गईं हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि काशी, ज्ञान और विज्ञान के क्षेत्र के साथ-साथ समृद्धि के उस नए प्रतिमान के माध्यम से दुनिया में अपना स्थान बनाएगी। उन्होंने कहा कि 1254 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं की सौगात लेकर प्रधानमंत्री मोदी आए हैं। काशी विश्वनाथ से महाकाल के दर्शन करने के लिए ‘महाकाल एक्सप्रेस’ ट्रेन की सौगात भी काशीवासियों को प्राप्त हो रही है। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री मोदी का अभिनन्दन करता हूं और काशीवासियों को बधाई देता हूं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चंदौली जनपद अपनी समृद्धि यहां के किसानों के माध्यम से आगे बढा रहा है। चंदौली बाबा कीनाराम की पावन जन्मस्थली है और बाबा अवधूत राम का तपोस्थली है। उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए प्रधानमंत्री मोदी युद्धस्तर पर काम कर रहे हैं।