बलिया जेल में साथी की संदिग्‍ध मौत से भड़के कैदी, हंगामा मचा

संजीव कुमार बाबा

: मजिस्‍ट्रीयल जांच की कर रहे हैं मांग : बलिया : जिला कारागार में संदिग्ध परिस्थितियों में एक कैदी की मौत होने के बाद जेल प्रशासन में खलबली मची हुई है। ईसी एक्ट में एक साल से बंद रामजी पांडेय की अचानक जेल के अंदर मौत हो गई, जिसके बाद कैदियों ने जेल के अंदर जमकर हंगामा मचाया। कैदियों ने पूरे मामले की मजिस्‍ट्रीयल जांच कर मृतक कैदी के परिजनों को मुआवजा देने की मांग कर रहे हैं।

इधर, जेलर का कहना है कि मौत की असली वजह का खुलासा पोस्‍टमार्टम के बाद ही हो पाएगा। हंगामा कर रहे कैदियों को मना लिया गया है। गौरतलब है कि सहतवार थाना क्षेत्र के डुमरिया गांव का रहने वाला कैदी रामजी पांडेय पिछले एक साल से जेल में बंद थे। उनका स्‍वास्‍थ्‍य भी ठीक था, फिर अचानक मौत को लेकर सवाल उठ रहे हैं।

मृतक कैदी के परिजनों की माने तो वह कल ही जेल में अपने चाचा से मिलकर आये थे, वह बिल्कुल ठीक थे ।मगर आज सुबह किसी ने फ़ोन कर बताया कि उनकी मौत हो चुकी है। जेल प्रशाशन की माने तो कैदी की कल शाम को तबियत खराब हुई थी और उसे रात भर जेल अस्पताल में इलाज कराया गया। वह ठीक थे, मगर आज सुबह कुछ कैदियों ने शिकायत किया कि वह बेहोश हो गए हैं।

जेलर ने बताया कि उन्हें जिला अस्पताल भेज गया जहाँ उनके पहुंचते ही मौत हो गई। दूसरी तरफ मौत की सूचना पर कैदी के साथ रहने वाले दूसरे तमाम कैदी आक्रोशित हो गए तथा जेल में हंगामा करना शुरू कर दिया। कैदी काफी आक्रोशित थे और मामले की मजिस्ट्रिीयल जांच कर कार्रवाई तथा परिजनों के लिए मुआवजे की मांग कर रहे थे। जेलर ने बताया कि मामले की मजिस्‍ट्रीयल  जांच कराई जा रही है और उनकी मांगों से जिला अधिकारी को अवगत करा दिया गया है।