शाहजहांपुरः आत्महत्या और हत्या पर उठे सवाल, दरोगा से नोकझोंक

संजीव पांडेय, शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर के थाना मदनापुर क्षेत्र के गांव बरीखास में एक महिला की रविवार सुबह संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मृतका के पिता का आरोप है कि उनकी बेटी को ससुरालियों ने फांसी पर लटका कर मार डाला है, जबकि ससुरालियों का कहना है कि महिला ने आत्महत्या कर ली है। हत्या और आत्महत्या के मामले पर मृतका के पिता की थानाध्यक्ष से जमकर तू-तू, मैं-मैं हुईं। बाद में सूचना के आधार पर पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई का भरोसा दिया है।
पुवाया निवासी खान सिंह ने अपनी बेटी आराधना उर्फ राधू की शादी सात वर्ष पहलेे मदनापुर क्षेत्र के गांव बरीखास निवासी शिवओम सिंह के साथ की थी। जिसमें उसने हैसियत अनुसार दहेज दिया था लेकिन ससुराल वाले दिए गए दहेज से संतुष्ट नहीं थे और आए दिन दहेज की मांग को लेकर बेटी को प्रताड़ित करने लगे। आरोप लगाया कि रविवार सुबह उनकी बेटी को फांसी पर लटकाकर मार दिया गया। पीड़ित पिता ने बताया कि बरीखास गांव में ही उसकी बहन भी ब्याही है, इसलिए वह एक माह से बहन के घर रह रहा है। इसलिए उसे बेटी की मौत की सूचना जल्दी मिल गई। जब वह घर पहुंचा तो बेटी जमीन में मृत अवस्था में लेटी मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस के सामने ससुरालियों ने आत्महत्या की बात बताई। जबकि पिता हत्या का आरोप लगा रहा था। हत्या और आत्महत्या के आरोपों के बीच मृतका के पिता और दरोगा में तू-तू, मैं-मैं हो गई। बाद में पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। वहीं थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।