सपा, बसपा और कांग्रेस को अपने परिवार से फुर्सत नहीं : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर सपा, बसपा और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि इनको अपने परिवार से ही फुर्सत नहीं है । किसान, वंचित, गरीब, दबे, कुचले वर्ग का विकास कभी इन दलों के एजेंडे में नहीं रहा। वहीं पीएम मोदी ने 2014 में “सबका साथ, सबका विकास ” एक मंत्र दिया था, जो आज हकीकत में तब्दील हो रहा है। कांग्रेस ने कश्मीर में धारा 370 लगाकर देश में आतंकवाद का बीज बोया था । प्रधानमंत्री मोदी ने 370 को हटाकर आतंकवाद को सदा के लिए समाप्त कर दिया। सपा, बसपा शासन में थाने व तहसीलें बिक चुके थे । सपा व बसपा के कार्यकर्ताओं ने लूट मचाई थी। गुंडों व माफिया को खुला संरक्षण मिलता था। इसलिए भाजपा की सरकार आवश्यक है। 2022 में बरकरार रहेगी तो कोई दंगा करने का दु:साहस नहीं कर पाएगा। कोई गुंडा, माफिया किसी गरीब, किसान और व्यापारी की संपत्ति पर कब्जे का दु:साहस नहीं कर पाएगा। किसी ने ऐसा किया तो सरकार का बुलडोजर उसकी छाती पर चलेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को महानगर के अलीगंज स्थित पंचायत भवन में पिछड़ा वर्ग के सामाजिक प्रतिनिधि सम्मेलन को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर पर्यावरण एवं वन मंत्री दारा सिंह चौहान, पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनिल राजभर, उ. प्र. पिछड़ा वर्ग आयोग के उपाध्यक्ष प्रभुनाथ चौहान, प्रदेश मंत्री मोहन सिंह, ब्लाक प्रमुख रामभरोसे चौहान आदि मौजूद थे । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2014 से पहले लोगों में व्यापक असंतोष, आक्रोश और अविश्वास था। रोज-रोज नये घोटाले सामने आते थे । कांग्रेस नेतृत्व की यूपीए सरकार देश की कीमत पर राजनीति कर रही थी । यूपीए राज में देश की बाह्य एवं आंतरिक सुरक्षा खतरे में थी । वहीं सपा सरकार में आतंवादियों ने मध्यकाल की याद ताजा कर दी थी। मठों, मंदिरों पर हमले होते थे । वृहद हिन्दू समाज की भावनाओं पर कुठाराघात कर रौंदा जा रहा था । सपा शासन में आतंकियों के मुकदमे वापस होते थे । हिन्दुओ पर झूठे मुकदमे दर्ज होते थे । रामभक्तों पर गोली और आतंकियों की आरती उतारी जाती थी ।

पीएम मोदी का “सबका साथ, सबका विकास ” का नारा आज सच में हो रहा तब्दील

2005 में भरत मिलाप के मौके पर मऊ में व्यापक दंगे हुए। 2007 में आजमगढ़ के शिबली कालेज में अजित राय की हत्या इसलिए कर दी गयी कि उन्होंने वंदे मातरम गान की मांग कर दी थी।

भाजपा और विपक्षी दलों की कार्यशैली में अंतर बताते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2012 में जब सपा की सरकार बनी तो पहला दंगा कोसीकला में हुआ। हमारी सरकार बनी तो पहला निर्णय किसान की कर्जमाफी का हुआ । सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकारों को परिवार से फुर्सत नहीं होती । जबकि भाजपा सरकार में हर तबके के लिए कार्य होता है। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि 1990 में हमारी सरकार होती तो क्या रामभक्तों पर गोली चलती? आज भाजपा अयोध्या में भव्य राम मंदिर बना रही है, जो कि हमारे लिए यह गौरव की अनुभूति का अवसर है। उन्होंने कहा कि भारत के टुकड़े-टुकड़े की मंसा रखने वाला समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष से क्यों मिलने आता है? यह सब चीजें आंखे खोलने वाली हैं।

प्रधानमंत्री मोदी का वर्ष 2014 में दिया गया सबका साथ, सबका विकास का नारा आज हकीकत बन चुका है। भाजपा की केन्द्र व प्रदेश की सरकारें बिना किसी भेदभाव के सबको फ्री में आवास, शौचालय, रसोई गैस, किसान सम्मान निधि, पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कवर, किसानों की कर्जमाफी, मुफ्त राशन और कोरोना से बचाव को मुफ्त में वैक्सीन लगा रही है।

घोटाले की रही यूपीए सरकार, सपा शासन में होते थे दंगे

विपक्षी दलों ने कोरोना वैक्सीन का दुष्प्रचार किया
मुख्यमंत्री योगी ने सपा, कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों ने भाजपा का वैक्सीन बता कर इसका दुष्प्रचार किया। जबकि देश में बनी इसी वैक्सीन ने कोरोना को कंट्रोल किया और भारत सुरक्षित हो पाया। जबकि आबादी के लिहाज भारत की चौथाई आबादी वाले अमेरिका में कोरोना से भारत से डेढ़ गुना अधिक मौतें हुई ।वहीं प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत 100 करोड़ वैक्सीनेशन करने वाला दुनिया का पहला देश बना ।

पिछड़ों के विकास की सपा, बसपा व कांग्रेस की नीयत ही नहीं थी मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकारों की पिछड़ों के विकास की नीयत ही नहीं थी । वह नहीं चाहती थीं कि पिछड़े समाज का विकास हो और गरीब समाज की मुख्य धारा से जुड़ सकें। इसलिए इन दलों की सरकारों ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा नहीं दिया। भाजपा सरकार ने संवैधानिक दर्जा दिया। आजादी के बाद कोई भी ठाकुर चौहान से पहले राज्यपाल नहीं बना। आज हमारी सरकार में दारा सिंह चौहान भारीभरम मंत्रालय संभाल रहे हैं। प्रभुनाथ चौहान उप्र पिछड़ा वर्ग आयोग के उपाध्यक्ष हैं। इस समाज के लोग आज ब्लॉक प्रमुख बन रहे हैं।

उन्होंने पिछड़े समाज का आह्वान किया कि भावी पीढ़ी के भविष्य के लिए भाजपा सरकार जरूरी है। इसके लिए घर घर जाकर लोगों को जागरूक करना होगा, क्योंकि देश की अहम अर्थव्यवस्था बनने जा रहे यूपी के इस अभियान में बाधा डालने के लिए षड्यंत्र होंगे, सौदेबाजी की जाएगी और झूठ का सहारा लेकर दुष्प्रचार किया जाएगा।