भाजपा के इस मंत्री का दावा- लोस चुनाव तक सपा-बसपा गठबंधन टूट जाएगा

bjp

संजीव कुमार बाबा

: सस्‍ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए बयानबाजी कर रहे राजभर – मौर्य : बलिया : उत्तर प्रदेश के श्रम व सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने सपा व बसपा गठबंधन के दीर्घायु न होने का दावा करते हुए कहा है कि लोकसभा चुनाव के पहले ही यह गठबंधन टूट जायेगा। संवाददाताओं से बातचीत करते हुए काबीना मंत्री स्वामी प्रसाद  मौर्य ने कहा कि सपा व बसपा आपस में लड़कर ही खत्म हो जायेंगे। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि यह मुद्दों पर आधारित गठबंधन नहीं है। मुद्दाविहीन गठबंधन कभी भी दीर्घायु नहीं होता।

उन्होंने इसके साथ ही जोड़ा कि लोकसभा चुनाव आते-आते यह गठबंधन टूट जायेगा। उन्होंने एक सवाल के जबाब में कहा कि भाजपा ने जाति व धर्म के बजाय विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ा था। विकास ही भाजपा की पहचान है तथा विकास को लेकर ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विश्व में धमक है। उन्होंने कहा कि यह कहना कि भाजपा किसी व्यक्ति व जाति को आगे कर उनके नाम पर चुनाव लड़ी, गलत है।

उन्होंने अपने सहयोगी मंत्री व सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को नसीहत दिया। उन्होंने कहा कि वे सरकार में मंत्री हैं। उन्हें जो भी शिकवा, आपत्ति और मांग करनी है, वह दल के नेतृत्व के सामने इसे उठाये। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि सार्वजनिक मंच से आम लोगों के सामने सरकार को लेकर कोई बात रखने का कोई मतलब नहीं है। उन्होंने इसके साथ ही जोड़ा कि सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिये राजभर बयानबाजी कर रहे हैं।

काबीना मंत्री श्री मौर्य दिव्यांग जन सशक्तिकरण मंत्री ओम प्रकाश राजभर के इस बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे, जिसमें राजभर ने कहा है कि भाजपा ने केशव प्रसाद मौर्य के नाम पर पिछड़े वर्ग का वोट ले लिया, लेकिन मुख्यमंत्री केशव की बजाय योगी आदित्यनाथ को बना दिया। काबीना मंत्री श्री मौर्य ने योगी सरकार में पिछड़े वर्ग की उपेक्षा के सवाल पर कोई टिप्पणी नहीं की।

उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के सरकारी आवास खाली करने के बाद आवास में तोड़फोड़ व सामान गायब होने को लेकर पूछे जाने पर कहा कि सपा सरकार की गुंडा राज के रूप में पहचान रही है।  अखिलेश ने पार्टी के चरित्र के अनुरूप ही कार्य किया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में राज्य सम्पत्ति की कोई क्षति हुई होगी तो कार्रवाई होगी।

भाजपा सांसद ब्रज भूषण शरण सिंह के आरोप को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि भाजपा में लोकतांत्रिक परम्पराओं का निर्वहन होता है, इसलिये कोई भी कुछ भी बोल देता है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि किसी के जुबान पर ताला नहीं लगा है, लेकिन तथ्यहीन, बेबुनियाद व हवा में आरोप लगाने का कोई मतलब नहीं है।  उन्होंने विभाग की उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए दावा किया कि योगी सरकार में रोजगार मेला के जरिये 70 हजार नौजवानों को नौकरी मिली है।