“विकास नहीं तो वोट नहीं”नारेबाजी के बीच सभाषद पति को बनाया बंधक

चंदौली। जनपद के पीडीडीयू नगर अंतर्गत चातुर्भुजपुर वार्ड में विकास कार्य ना होने के कारण आक्रोशित वार्ड वासियों ने सोमवार को हाथ पैर बांधकर सभासद पति को बंधक बना लिया। इसकी सूचना चेयरमैन व अधिशाषी अधिकारी को सभासद पति ने दी लेकिन किसी ने भी मौके पर पहुंचना मुनासिब नहीं समझा। जिससे लोगों में आक्रोश है। लोगों ने आक्रोशित होकर एलान कर दिया कि विकास नहीं तो वोट नहीं। बाद में नाली की सफाई पालिका द्वारा शुरू करवाये जाने के बाद सभाषद पति को लोगों ने मुक्त कर दिया।

घटना जनपद चंदौली के पंडित दीनदयाल नगर क्षेत्र के वार्ड नंबर एक चतुर्भुजपुर की है। जहां विगत 30 वर्षों से नाली की समस्या से जूझ रहे वार्ड वासी अपनी फरियाद कई बार संबंधित विभाग के उच्चाधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से की लेकिन समस्याओं से निजात ना मिलता देख आक्रोशित वार्ड वासियों ने आज सभासद पति को घंटो बंधक बनाकर चौराहे पर बैठा दिया।
“विकास नहीं तो वोट नहीं” दबाएंगे नोटा बटन
  इस दौरान “विकास नहीं तो वोट नहीं” के नारे लगाने के साथ-साथ विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के जनप्रतिनिधि को वार्ड में वोट मांगने के प्रवेश से वर्जित कर दिया है। लोगों का कहना है कि हम लोग विगत कई वर्षों से इसकी शिकायत जनप्रतिनिधि व उच्चाधिकारियों से करते आ रहे हैं लेकिन उनके कानों में जू तक नहीं रेंगता। जब जनप्रतिनिधि हमारी समस्या को नहीं सुन रहे हैं तो उन्हें इस वार्ड में वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं। हम लोग इस बार लोकसभा चुनाव में नोटा का बटन दबाकर इसका विरोध करेंगे।
सभाषद पति ने कहा “अधिकारी और जनप्रतिनिधि कर रहे है वार्ड का अनदेखा”
इस संदर्भ में सभासद पति वीरू रावत ने भी वार्ड वासियों के समक्ष अपनी मजबूरी सुनाते हुए बताया कि वार्ड की समस्या के समाधान के लिए हम कई बार इओ सहित अन्य जनप्रतिनिधियों से गुहार लगा चुके हैं लेकिन अधिकारी मेरे वार्ड की समस्याओं  को अनदेखा  कर रहे हैं। सभासद पति ने जनप्रतिनिधि व अधिकारियों  पर आरोप लगाते हुए कहा है,कि कुछ माह पूर्व नवर के विकास कार्य के लिए लगभग तीन करोड़ रुपये का टेंडर पास किया गया है, और सभी सभासदों के वार्ड में तीस से चालीस लाख रुपये वार्ड में विकास कार्य करने के लिए दिया गया है। जबकि हमारे वार्ड में मात्र ग्यारह लाख रुपये से भी कम विकास कार्य के लिए धन आवंटन हुआ है।
बताते चलें कि यह क्षेत्र भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पांडेय का संसदीय क्षेत्र है, और जब भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के संसदीय क्षेत्र का यह हाल है तो यूपी के अन्य सांसदों के संसदीय क्षेत्र का क्या हाल होगा यह एक यक्ष प्रश्न है।