व्हाट्सएप्प ग्रुप में धार्मिक पोस्ट फारवर्ड करने वाले के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

चंदौली। व्हाट्सएप्प ग्रुप में एक धर्म के लोगों की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने वाली पोस्ट फारवर्ड करने पर जनपद के पीडीडीयू नगर कोतवाली पुलिस ने पोस्ट फारवर्ड करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध नामजद मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

डीजीपी यूपी, एडीजीपी वाराणसी और चंदौली पुलिस को ट्वीट के बाद मुकदमा दर्ज

   बताते चलें कि जनपद में चल रहे “सूचना के सिपाही (RAKT)” नामक व्हाट्सएप्प ग्रुप में एक धर्म के सदस्य द्वारा दूसरे धर्म के त्योहार को लेकर धार्मिक भावना को आहत पहुंचाने वाली पोस्ट फॉरवर्ड की थी। जिसपर ग्रुप के सदस्यों ने एतराज भी जताया था। बावजूद इसके उक्त पोस्ट को फारवर्ड करने वाले ग्रुप सदस्य ने ना तो उसे डिलीट किया और ना ही उसने अपनी गलती ही स्वीकार किया। इसी बीच ग्रुप के ही एक सदस्य द्वारा उक्त पोस्ट का स्क्रीन शॉट लेकर उसे डीजीपी यूपी,एडीजीपी वाराणसी और चंदौली पुलिस को ध्यानार्थ ट्वीट कर दिया। जिसके बाद ट्वीट का संज्ञान लेते हुये पीडीडीयू नगर कोतवाल शिवानंद मिश्रा ने व्हाट्सएप्प ग्रुप में उक्त पोस्ट फारवर्ड करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध नामजद मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

इस बाबत सीओ त्रिपुरारी पांडेय ने बताया कि पुलिस व्हाट्सएप्प पर नजर रख रही है। भ्रामक और धार्मिक उन्माद फैलाने के उद्देश्य से कोई भी खबर पोस्ट करने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाही की जाएगी। फिलहाल उक्त पोस्ट फारवर्ड करने वाले व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 “ए” तथा आईटी एक्ट की संशोधित धारा 67 के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की गई है।