ये योगी का यूपी है, तमन्‍ना बेगम ने कहा – बेटा हुआ रणविजय रखेंगी नाम

yogi

: यूपी पुलिस का दिखा मानवीय चेहरा : बिना भेदभाव जनता के प्रति तय हो रही जवाबदेही : नोएडा : यह नया उत्‍तर प्रदेश है। योगी आदित्‍यनाथ का उत्‍तर प्रदेश है। यह संवेदनाओं और मानवीय मूल्‍यों को सहेज कर रखने वाला उत्‍तर प्रदेश है। अब इस प्रदेश में सरकारी संसाधनों पर पहला हक किस जाति या धर्म का होगा, यह नहीं बताया जाता है। अब केवल जरूरतमंद की मदद की जाती है, बिना उसकी जाति और धर्म को देखे। योगी आदित्‍यनाथ को जो अराजक उत्‍तर प्रदेश मिला था, वह पीछे छूट चुका है। अब एक जवाबदेह सरकार है।

इसका ताजा उदाहरण नोएडा में देखने को मिला। बरेली में रहने वाली तमन्‍ना के पति नोएडा में काम करते हैं। तमन्‍ना प्रेगनेंट थीं। उनके आसपास कोई नहीं था। तमन्‍ना प्रसव पीड़ा से परेशान थीं। पति भी लॉकडाउन के चलते नोएडा में फंस गये थे। पढ़ी-लिखी तमन्‍ना ने किसी तरह बरेली एवं नोएडा पुलिस से संपर्क किया। एडिसशनल डीसीपी रणविजय सिंह का नंबर जुगाड़ कर, उनसे मदद मांगी। पति को बरेली भेजने में सहयोग करने का अनुरोध किया।

y
तमन्‍ना

पति को सामने देख भावुक हुईं तमन्‍ना : रणविजय सिंह की देखरेख में नोएडा पुलिस ने तमन्‍ना के पति को बरेली पहुंचा दिया। तमन्‍ना पति को सामने पाकर भावुक हो गईं। तमन्‍ना बरेली तथा नोएडा पुलिस को धन्‍यवाद दिया। नोएडा पुलिस एडिशनल डीसीपी रणविजय सिंह के व्‍यवहार और अपने पति को पास पाकर तमन्‍ना इतनी भावुक हो गईं कि उन्‍होंने वाट्सएप पर आभार जताते यह इच्‍छा जताई कि अगर उनको लड़का हुआ तो वो अपने पुत्र का नाम रणविजय रखेंगी।

नोएडा से पहुंचे पति ने पुलिस की मदद से तमन्‍ना को अस्‍पताल में भर्ती कराया जहां उन्‍होंने एक स्‍वस्‍थ्‍य बच्‍चे को जन्‍म दिया। मां-बच्‍चा दोनों स्‍वस्‍थ्‍य हैं। इसके बाद अस्‍पताल से ही एक वीडियो संदेश जारी करते हुए तमन्‍ना ने हिंदुस्‍तान टाइम्‍स, बरेली पुलिस, नोएडा सीपी आलोक सिंह समेत दोनों जिलों की पुलिस को धन्‍यवाद दिया तथा एडीसी रणविजय सिंह का विशेष आभार किया। कहा कि यह उनका दूसरा जन्‍म है, पुलिस को धन्‍यवाद।